Mahant Narendra Giri Death: अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में निधन

गिरी का शव प्रयागराज के बाघंबरी मठ में फांसी के फंदे से लटका हुआ मिला
अपडेटेड Sep 20, 2021 पर 19:44  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी (Mahant Narendra Giri) की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है। प्रयागराज के बाघंबरी मठ में उनका निधन हुआ है। उनकी मौत के कारणों का तत्काल पता नहीं चल सका है। हालांकि मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, उनका शव प्रयागराज के अल्लापुर में स्थित बाघंबरी मठ (Baghambari Mutt) के कमरे में फंदे से लटका मिला है।


खबर मिलते ही पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। फिलहाल यह फांसी लगाकर खुदकुशी का मामला लग रहा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इस खबर के बाद साधु संतों में शोक की लहर है। गिरि देश के जाने माने संत थे।


गिरि निरंजनी अखाड़े के सचिव भी थे। मठ के बाहर जिला प्रशासन और पुलिस के आला अधिकारी मौजूद हैं तथा अभी किसी को अंदर जाने की अनुमति नहीं है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित देशभर के नेताओं ने महंत नरेंद्र गिरि के निधन पर श्रद्धांजलि व्यक्त की है।


सीएम योगी ने ट्वीट कर कहा कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि जी का ब्रह्मलीन होना आध्यात्मिक जगत की अपूरणीय क्षति है। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत पुण्यात्मा को अपने श्री चरणों में स्थान तथा शोकाकुल अनुयायियों को यह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें। ॐ शांति!


पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी उनके निधन पर दुख जताया है। उन्होंने कहा कि ईश्वर पुण्य आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान व उनके अनुयायियों को यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करें।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।