महबूबा मुफ्ती के देशद्रोही बयान के लिए BJP ने राज्यपाल से की गिरफ्तारी की मांग

BJP ने कहा कि धरती की कोई ताकत आर्टिकल 370 को वापस नहीं ला सकती
अपडेटेड Oct 25, 2020 पर 19:19  |  स्रोत : Moneycontrol.com

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने शुक्रवार को PDP (Peoples Democratic Party) अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) के देशद्रोही बयान के लिए राज्यपाल मनोज सिन्हा से उनकी गिरफ्तारी की मांग की। मुफ्ती ने कहा था कि वह तिरंगा झंडा तभी थामेंगी, जब जम्मू-कश्मीर को पूर्ववर्ती राज्य का झंडा वापस मिल जाएगा। BJP ने कहा कि धरती की कोई ताकत वह झंडा फिर से नहीं फहरा सकती और आर्टिकल 370 को वापस नहीं ला सकती।


प्रदेश BJP अध्यक्ष रवींद्र रैना (Ravinder Raina) ने पत्रकारों से कहा कि मैं उप राज्यपाल मनोज सिन्हा (Manoj Sinha) से अनुरोध करता हूं कि वह महबूबा मुफ्ती के देशद्रोही बयान का संज्ञान लें और उन्हें सलाखों के पीछे डालें। PDP अध्यक्ष ने 14 महीने की नजरबंदी से रिहा होने के बाद पहली बार पत्रकारों से बातचीत में कहा कि वह तिरंगा तभी थामेंगी जब पूर्ववर्ती राज्य का झंडा बहाल हो जाएगा।


पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा कि जब तक जम्मू-कश्मीर को लेकर पिछले साल पांच अगस्त को संविधान में किए गए बदलावों को वापस नहीं ले लिया जाता, तब तक उन्हें चुनाव लड़ने अथवा तिरंगा थामने में कोई दिलचस्पी नहीं है। कांग्रेस पार्टी ने भी महबूबा मुफ्ती के इस बयान पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए नाराजगी जताई है।


जम्मू-कश्मीर प्रदेश कांग्रेस समिति ने पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती द्वारा तिरंगे झंडे को लेकर दिए गए बयान की शुक्रवार को कड़ी निंदा की और कहा कि यह स्वीकार करने योग्य नहीं है और इससे लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं। जम्मू-कश्मीर कांग्रेस के अध्यक्ष रवींद्र शर्मा ने कहा कि ऐसे बयान किसी भी समाज में बर्दाश्त करने लायक नहीं हैं और अस्वीकार्य हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय ध्वज देश के सम्मान का प्रतीक है। शर्मा ने कहा कि उन्हें (महबूबा) इस तरह के अपमानजनक बयानों से बचना चाहिए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।