पाकिस्तान की तरफ से बनाई गई सुरंग का खुलासा, BSF ने कहा- 8 सालों से टनल के जरिए की जा रही थी घुसपैठ

पिछले 10 दिनों में इस तरह की ये दूसरी बड़ी सुरंग है, जो 30 फीट गहरी और 150 मीटर लंबी है
अपडेटेड Jan 23, 2021 पर 22:24  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने शनिवार को जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के कठुआ जिले में इंटरनेशनल बॉर्डर पर पाकिस्तान (Pakistan) की तरफ से बनाई गई एक भूमिगत सुरंग (Underground Tunnel) का पता लगाया। BSF के प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तान इस सुरंग का इस्तेमाल आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए करता था। पिछले 10 दिनों में इस तरह की ये दूसरी सुरंग है।


प्रवक्ता ने कहा कि गुप्त सुरंग का पता हीरानगर सेक्टर के बॉर्डर आउटपोस्ट (बीओपी) नंबर 14 और 15 पंसार इलाके में एक एंटी-टनलिंग ऑपरेशन के दौरान लगाया गया था। सुरंग करीब 30 फीट गहरी और 150 मीटर लंबी है।


पिछले 10 दिनों के दौरान हीरानगर सेक्टर में बीएसएफ ने ये दूसरी अंडरग्राउंड सुरंग का पता लगाया है, जबकि सांबा और कठुआ जिलों में अंतर्राष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर पिछले छह महीनों में ये चौथी और पिछले एक दशक में ये 10वीं सुरंग है।


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह बहुत बड़ी बा है, क्योंकि सुरंग कम से कम 6 से 8 साल पुरानी लगती है, जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि लंबे समय से घुसपैठ के लिए इसका इस्तेमाल किया जा रहा था।


इससे पहले 13 जनवरी को इसी सेक्टर के बोबियान गांव में 150 मीटर लंबी सुरंग का पता चला था। अधिकारियों ने बताया कि इसी इलाके में जून 2020 को एक पाकिस्तानी हेक्साकॉप्टर को हथियारों और गोला-बारूद ले जाते हुए नष्ट कर दिया गया था। उससे पहले नवंबर 2019 में इस इलाके में ही आतंकियों की घुसपैठ को नाकामयाब भी किया था।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।