उत्तराखंड में बढ़े कोरोना के मामले, नाइट कर्फ्यू लगाने का निर्णय ले सकती है रावत सरकार

शुक्रवार को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कैबिनेट मीटिंग बुलाई थी
अपडेटेड Apr 10, 2021 पर 14:23  |  स्रोत : Moneycontrol.com

उत्तराखंड में भी कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। कोरोना के मामले बढ़ने उत्तराखंड सरकार और प्रशासन की चिंताएं बढ़ गई हैं जिसके चलते कल यानी शुक्रवार को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कैबिनेट मीटिंग बुलाई थी। मीटिंग में चर्चा करने के बाद माना जा रहा है सरकार राज्य में कोरोना को काबू करने के लिए नाइट कर्फ्यू लगाना के फैसला ले सकती है।


सीएम तीरथ सिंह रावत ने न्यूज 18 से बातचीत करते हुए कहा कि कोरोना को काबू करने के लिए नाइट कर्फ्यू भी लगाया जा सकता है। सरकार इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए ठोस कदम उठाने पर विचार कर रही है।


बता दें कि कोरोना संक्रमण के चलते उत्तराखंड में देहरादून सबसे हॉट स्पॉट बना हुआ है। पूरे उत्तराखंड में कोविड के 5 हजार से अधिक एक्टिव केस हैं। इसमें से सबसे अधिक करीब 2 हजार मामले अकेले देहरादून में हैं, तो दूसरे नंबर पर हरिद्वार है।  हरिद्वार में 1500, नैनीताल में 550 एक्टिव केस हैं। इन तीनों जिलों में रोज सबसे अधिक केस भी मिल रहे हैं। जिससे प्रशासन की चिंताएं बढ़ती जा रही हैं।


देहरादून के दून स्कूल में विद्यार्थियों और शिक्षकों को भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। इनके कोविड पॉजिटिव आने के बाद एक हॉस्टल को क्वारंटाइन कर दिया गया है। इसके अलावा देहरादून में फॉरेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट में सेंट्रल एकेडमी फॉर स्टेट फॉरेस्ट सर्विस के 14 प्रशिक्षु अधिकारी, ओएनजीसी में 27 अधिकारी, कर्मचारी और उनके परिवार वाले कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।