PM Modi Speech: वायरस से लड़ने के साथ इकोनॉमी का भी ध्यान रखना जरूरी

पीएम मोदी ने कहा कि सरकार आज ऐसे पॉलिसी रिफॉर्म्स भी कर रही है जिनकी देश ने उम्मीद भी छोड़ दी थी
अपडेटेड Jun 03, 2020 पर 11:10  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पीएम मोदी CII के सालाना बैठक को संबोधित कर रहे हैं। इस सेशन का विषय "Getting Growth Back" यानी ग्रोथ को पटरी पर लाना है। देश में चौथे चरण का लॉकडाउन खत्म होने के बाद सरकार ने अनलॉक 1.0 शुरू किया है ताकि आर्थिक गतिविधियों को दोबारा शुरू किया जा सके। अनलॉक 1.0 के बाद यह पीएम मोदी का पहला बड़ा स्पीच है। पीएम मोदी ने CII के सालाना बैठक को संबोधित करना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि हमें जहां एक तरफ इस Virus से लड़ने के लिए सख्त कदम उठाने हैं वहीं दूसरी तरफ Economy का भी ध्यान रखना है।


11.40 AM


हमारी सरकार प्राइवेट सेक्टर को देश की विकास यात्रा का Partner मानती है।
आत्मनिर्भर भारत अभियान से जुड़ी आपकी हर आवश्यकता का ध्यान रखा जाएगा। आपसे, सभी स्टेकहोल्डर्स से मैं लगातार संवाद करता हूं और ये सिलसिला आगे भी जारी रहेगा। देश को आत्मनिर्भर बनाने का संकल्प लें। इस संकल्प को पूरा करने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दें। सरकार आपके साथ खड़ी है, आप देश के लक्ष्यों के साथ खड़े होइए।


11.30 AM


पीएम ने कहा, सरकार जिस दिशा में बढ़ रही है, उससे हमारा mining sector हो, energy sector हो, या research और technology हो, हर क्षेत्र में इंडस्ट्री को भी अवसर मिलेंगे, और youths के लिए भी नई opportunities खुलेंगी।


11.25 AM


पीएम मोदी ने कहा कि सरकार आज ऐसे पॉलिसी reforms भी कर रही है जिनकी देश ने उम्मीद भी छोड़ दी थी। अगर मैं कृषि सेक्टर की बात करूं तो हमारे यहां आजादी के बाद जो नियम-कायदे बने, उसमें किसानों को बिचौलियों के हाथों में छोड़ दिया गया था। श्रमिकों के कल्याण को ध्यान में रखते हुए, रोजगार के अवसरों को बढ़ाने के लिए लेबर रिफॉर्म्स भी किए जा रहे हैं। जिन non-strategic sectors में प्राइवेट सेक्टर को इजाजत ही नहीं थी, उन्हें भी खोला गया है।


11.23 AM


पीएम मोदी ने कहा, भारत को फिर से तेज़ विकास के पथ पर लाने के लिए, आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए 5 चीजें बहुत ज़रूरी हैं।  Intent, Inclusion, Investment, Infrastructure और Innovation. हाल में जो Bold फैसले लिए गए हैं, उसमें भी आपको इन सभी की झलक मिल जाएगी। हमारे लिए रिफॉर्म्स कोई रैंडम या scattered फैसला नहीं हैं। हमारे लिए रिफॉर्म्स  सिस्टेमेटिक प्लान, इंटीग्रेटेड, इंटरकनेक्टेड और भावी योजना है। पीएम ने कहा, "हमारे लिए reforms का मतलब है फैसले लेने का साहस करना, और उन्हें logical conclusion तक ले जाना है।"


11.20 AM

पीएम मोदी ने कहा, "प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना ने गरीबों को तुरंत लाभ देने में बहुत मदद की है। इस योजना के तहत करीब 74 करोड़ Beneficiaries तक राशन पहुंचाया जा चुका है। प्रवासी श्रमिकों के लिए भी फ्री राशन पहुंचाया जा रहा है।" महिलाएं हों, दिव्यांग हों, बुजुर्ग हों, श्रमिक हों, हर किसी को इससे लाभ मिला है। लॉकडाउन के दौरान सरकार ने गरीबों को 8 करोड़ से ज्यादा गैस सिलेंडर डिलिवर किए हैं- वो भी मुफ्त।


11.18 AM

कोरोना के खिलाफ इकोनॉमी को फिर से मजबूत करना, हमारी प्राथमिकता है। इसके लिए सरकार जो फैसले तुरंत लिए जाने जरूरी हैं, वो ले रही है।
और साथ में ऐसे भी फैसले लिए गए हैं जो आगे देश की मदद करेंगे।


11.15 AM


पीएम मोदी ने कहा, कोरोना ने हमारी Speed जितनी भी धीमी की हो, लेकिन आज देश की सबसे बड़ी सच्चाई यही है कि भारत, लॉकडाउन को पीछे छोड़कर Unlock Phase 1.0 में दाखिल हो चुका है। इकोनॉमी का बहुत बड़ा हिस्सा खुल चुका है। आज ये सब हम इसलिए कर पा रहे हैं, क्योंकि जब दुनिया में कोरोना वायरस पैर फैला रहा था, तो भारत ने सही समय पर, सही तरीके से सही कदम उठाए।
दुनिया के तमाम देशों से तुलना करें तो आज हमें पता चलता है कि भारत में lockdown का कितना व्यापक प्रभाव रहा है।


11.11 AM


पीएम मोदी ने कहा, "मुझे भारत की Capabilities और Crisis Management पर भरोसा है। मुझे भारत के Talent और Technology पर भरोसा है। मुझे भारत के Innovation और Intellect पर भरोसा है। मुझे भारत के Farmers, MSMEs, Entrepreneurs पर भरोसा है।"


11.08 AM


पीएम ने कहा, बल्कि मैं तो Getting Growth Back से आगे बढ़कर ये भी कहूंगा कि Yes ! We will definitely get our growth back. आप लोगों में से कुछ लोग सोच सकते हैं कि संकट की इस घड़ी में, मैं इतने Confidence से ये कैसे बोल सकता हूं? मेरे इस Confidence के कई कारण है।


11.05 AM


पीएम मोदी ने CII के सालाना बैठक को संबोधित करना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि हमें जहां एक तरफ इस Virus से लड़ने के लिए सख्त कदम उठाने हैं वहीं दूसरी तरफ Economy का भी ध्यान रखना है। पीएम ने कहा, "हमें एक तरफ देशवासियों का जीवन भी बचाना है तो दूसरी तरफ देश की अर्थव्यवस्था को भी Stabilize करना है, Speed Up करना है। इस Situation में आपने “Getting Growth Back” की बात शुरू की है और निश्चित तौर पर इसके लिए आप सभी, भारतीय उद्योग जगत के लोग बधाई के पात्र हैं।"


10.45 AM


देश में कोरोनावायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पिछले 24 घंटों में कोरोनावायरस के केस बढ़कर 2 लाख के करीब पहुंच गए हैं। हालांकि आर्थिक गतिविधियों को लगातार हो रहे नुकसान को देखते हुए सरकार ने चरणबद्ध तरीके से काम धंधा खोलने की बात कही है जिसकी शुरुआत 8 जून से होगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।