भारत में Covid-19 संक्रमण का पीक नवंबर में आएगा, ICU बेड, वेंटिलेटर्स की होगी कमी: स्टडी

स्टडी के मुताबिक, लॉकडाउन की वजह से महामारी का पीक 34 से 76 दिनों के लिए आगे बढ़ गया है
अपडेटेड Jun 15, 2020 पर 10:48  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोनावायरस (Coronavirus) संक्रमण रोकने के लिए सरकार ने देश में 8 हफ्तों तक लॉकडाउन लगाया था। अब एक नई स्टडी के मुताबिक, लॉकडाउन और दूसरे उपायों की वजह से देश में अब Covid-19 का पीक मध्य नवंबर में आएगा। उस वक्त वेंटिलेटर्स, Isolation और ICU में बेड की भारी किल्लत होगी। यह रिसर्च ICMR के एक ऑपरेशंस रिसर्च ग्रुप के रिसर्चर ने की है। स्टडी के मुताबिक, लॉकडाउन की वजह से महामारी का पीक 34 से 76 दिनों के लिए टल गया है। इससे इनफेक्शन में 69 फीसदी से लेकर 97 फीसदी तक कमी आ सकती है।  


इस स्टडी के मुताबिक, नवंबर के पहले हफ्ते तक मरीजों के इलाज की व्यवस्था पूरी हो सकती है लेकिन उसके बाद वेंटिलेटर्स, ICU और Isolation के लिए बेड की कमी हो जाएगी। हालांकि रिसर्चर का यह भी कहना है कि लॉकडाउन और हेल्थ से जुड़े दूसरे उपायों के कारण संक्रमण में 83 फीसदी की कमी आई है।


पिछले 24 घंटों में देश भर से 11,929 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,20,922 पहुंच गई है। हेल्थ मिनिस्ट्री के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में 311 लोगों की मौत हुई। इस महामारी से अब तक देश भर में 9195 लोग मारे गए हैं। हालांकि इसमें एक अच्छी बात यह है कि रिकवरी भी तेजी से हो रही है। इस महामारी से 50 फीसदी से ज्यादा लोग रिकवर हो रहे है। अभी तक 1,62,378 लोग रिकवर हो चुके हैं जबकि  1,49,348 एक्टिव केस हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।