14 अप्रैल के बाद भी जारी रह सकता है लॉकडाउन: सरकारी सूत्र

एक प्रस्ताव यह भी है कि सिर्फ उन इलाकों में लॉकडाउन जारी रखा जाए जो कोरोना हॉटस्पॉट हैं
अपडेटेड Apr 07, 2020 पर 08:51  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोनावायरस (Coronavirus) संक्रमण के खिलाफ 24 मार्च की रात से देश में 21 दिनों का लॉकडाउन चल रहा है। लॉकडाउन की यह अवधि 14 अप्रैल को खत्म हो जाएगी। सवाल अब यह है कि क्या 14 अप्रैल के बाद भी लॉकडाउन जारी रहेगा? News18 ने एक सरकारी सूत्र के हवाले से बताया है कि 14 अप्रैल के बाद भी लॉकडाउन चलता रहेगा। लोगों के आने-जाने या जमा होने पर पाबंदी लगी रहेगी।


वैसे तो एक हफ्ता पहले कैबिनेट सेक्रेटरी राजीव गौबा ने इस बात से साफ इनकार कर दिया था कि सरकार लॉकडाउन को 14 अप्रैल से ज्यादा बढ़ा सकती है। लेकिन कई राज्यों ने सरकार से निवेदन किया है कि हालात को काबू में रखने के लिए लॉकडाउन को जारी रखा जाए।


क्या है भारत का हाल?


देश में कोरोनावायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 700 से भी ज्यादा मामले सामने आए और आंकड़ा 4000 से आगे निकल चुका है। अब तक 109 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले 4 दिनों में कोरोनावायरस संक्रमण के मामले डबल हो गए हैं। अगर आने वाले हफ्तों में भी इसी रफ्तार से मामला आगे बढ़ा तो हालात और खराब हो सकते हैं।


क्या है लॉकडाउन पर दूसरा प्रस्ताव


सरकार इस पर भी गौर कर रही है कि लॉकडाउन सिर्फ Covid-19 हॉटस्पॉट वाले इलाकों पर ही बढ़ाया जाए, पूरे देश के लिए नहीं। हेल्थ मिनिस्टर ने देश भर में कम से कम 20 वायरस हॉटस्पॉट की पहचान की है जबकि 22 संभावित हैं।


सूत्रों के मुताबिक, पीएम नरेंद्र मोदी आज कैबिनेट बैठक में इस बात की चर्चा करेंगे।  इसके बाद ही इसका फैसला होगा कि लॉकडाउन जारी रहेगी या हट जाएगी।


पिछले हफ्ते एक पीएम मोदी ने सभी मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में यह कहा था कि लॉकडाउन चरणबद्ध तरीके से हटाया जाना चाहिए।


महाराष्ट्र सरकार ने रविवार, 5 अप्रैल को कहा कि अगर राज्य में संक्रमण इसी तरह बढ़ते रहे तो वह लॉकडाउन नहीं हटाएगा। महाराष्ट्र पर कोरोनवायर संक्रमण की मार सबसे ज्यादा पड़ी है। वहां 690 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। सोमवार को मुंबई के वोकहार्ट अस्पताल में 26 नर्स और 3 डॉक्टर भी संक्रमित हो गए जिसके बाद अस्पताल को कंटेनमेंट ज़ोन बना दिया गया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें