Covishield vs Covaxin: जानिए कोविशील्ड और कोवैक्सीन के साइड इफेक्ट्स और किस रहना चाहिए दूर

कोविशील्ड के साइड इफेक्ट्स में इंजेक्शन लगने की जगह पर सूजन, बुखार महसूस होना, खुजली, सिरदर्द या जोड़ों में दर्द हो सकता है
अपडेटेड Mar 07, 2021 पर 20:40  |  स्रोत : Moneycontrol.com

भारत में 1 मार्च से कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण शुरू हो चुका है। देश में कोविशील्ड (Covishield) और कोवैक्सीन (Covaxin) नाम की दो वैक्सीन लगाई जा रही हैं। दोनों वैक्सीन भारत में बनाई गई हैं। सरकार ने कहा है कि कोविशील्ड (Covishield) और कोवैक्सीन (Covaxin) दोनों सेफ हैं, लेकिन इनके कुछ सामान्य साइड इफेक्ट्स हैं। वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India -SII) और भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने वैक्सीनेशन के बाद शरीर पर पड़ने वाले संभावित साइड इफेक्ट्स के बारे में जानकारी दी है। बता दें कि SII ने कोविशील्ड और भारत बायोटेक ने कोवैक्सीन नाम की कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाई है।


साइड इफेक्ट्स


कोवैक्सीन - कोवैक्सीन लगाने पर हल्के साइड इफेक्ट्स हैं। जिसमें से ऊपरी बाह में अकड़न, इंजेक्शन लगे हाथ में कमजोरी, शरीर में दर्द, सिरदर्द, बुखार, अस्वस्थता, कमजोरी, चकत्ते, मतली, इंजेक्शन वाली जगह पर दर्द, सूजन, लाल निशान, खुजली, और उल्टी शामिल है।


कंपनी के मुताबिक, बहुत कम संभावना है कि टीका गंभीर एलर्जी रिएक्शन का कारण बनता है। एक गंभीर प्रतिकूल घटना के लक्षणों में सांस लेने में कठिनाई, चेहरे और गले में सूजन, तेजी से दिल की धड़कन, पूरे शरीर पर चकत्ते, चक्कर आना और कमजोरी शामिल है।


कोवैक्सिन किसे नहीं लेनी चाहिए?


जिन लोगों को एलर्जी, बुखार, ब्लड से जुड़ी बीमारी है या खून पतला है उन्हें कोवैक्सीन नहीं लेनी चाहिए। ऐसे लोग जो कोई दवा ले रहे हैं, जिससे आपका इम्यून सिस्टम पर असर पड़ता है। उन्हें इस वैक्सीन से बचना चाहिए। इसके अलावा प्रेग्नेंट महिलाओं (pregnant women), ब्रेस्ट फीडिंग कराने वाली मां, हाल ही में कोई दूसरी वैक्सीन लगा चुकी महिला या किसी शख्स को भी कोवैक्सीन का डोज नहीं लेने की सलाह दी गई है। इसके साथ ही वैक्सीनेशन की निगारनी करने वाले वैक्सीनेशन अधिकारी द्वारा निर्धारित स्वास्थ्य संबंधी गंभीर समस्याएं पाए जाने पर भी कोवैक्सिन नहीं लेनी चाहिए।


कोविशील्ड


इस वैक्सीन के सामान्य साइड इफेक्ट्स में वैक्सीन लगाने की जगह पर सूजन या जलन होती है। अस्वस्थ महसूस करना, ठंड लगना या बुखार महसूस करना, दर्द, खुजली, सिरदर्द या जोड़ों में दर्द शामिल हैं।


कोविशील्ड को किसे नहीं लेना चाहिए


SII की फैक्टशीट (factsheet) में कहा गया है कि जिन लोगों को को कभी भी किसी दवा, भोजन, किसी वैक्सीन के बाद एलर्जी का गंभीर रिएक्शन होने पर उन्हें यह वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए। भारत बायोटेक की वैक्सीन के समान प्रेग्नेंट महिलाओं (pregnant women), ब्रेस्ट फीडिंग कराने वाली माताओं को यह वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।