राजधानी में बढ़ते संक्रमण के चलते दिल्ली में सभी स्कूल अगले आदेश तक बंद

दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए राजधानी के सभी स्कूलों को अगले आदेश तक बंद करने का ऐलान किया है
अपडेटेड Apr 10, 2021 पर 12:56  |  स्रोत : Moneycontrol.com

राजधानी दिल्ली में एक बार फिर कोरोनावायरस संक्रमण के मामलों में इजाफा देखने को मिला है। दिल्ली में तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए राजधानी के सभी स्कूलों को अगले आदेश तक बंद करने का एलान किया है। सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण, दिल्ली में सभी स्कूल अगले ऑर्डर तक बंद कर दिये गये हैं।


केंद्र शासित प्रदेशों में भी कोरोना के संक्रमण में बढ़ोत्तरी के चलते केंद्र शासित प्रदेशों की सरकार संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए कई सख्त कदम उठा रही है। इसी कड़ी में दिल्ली सरकार ने ये फैसला किया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वयं ट्वीट करके ये जानकारी शेयर की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, कि कोविड के बढ़ते मामलों के चलते, दिल्ली में सभी स्कूल (सरकारी, प्राइवेट सहित), सभी क्लासेस के लिए अगले आदेश तक बंद किए जा रहे हैं।


बता दें कि दिल्ली के एक रिहायशी स्कूल में पिछले दिनों प्रिंसिपल सहित कुछ छात्राएं कोरोना संक्रमित पाई गई थीं। इसके साथ ही आज जेएनयू में 24 छात्र संक्रमित पाए गए हैं। सिर्फ स्कूलों में ही नहीं दिल्ली के अस्पतालों के कर्मचारी भी कोरोना की इस लहर की चपेट में तेजी से आ रहे हैं जिसके चलते सरकार ने यह निर्णय लिया है कि स्कूल अगले आदेश तक बंद कर दिए जाएं ताकि इसके फैलते संक्रमण को नियंत्रित किया जा सके।


इससे पहले दिल्ली सरकार ने राजधानी में नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला भी लिया है। हालांकि अभी कोरोना के मामलों में लगातार इजाफा होना जारी है। ऐसे में दिल्ली सरकार के राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल को राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस के मामले बढ़ने के चलते एक बार फिर पूरी तरह से कोविड-19 हॉस्पिटल में परिवर्तित कर दिया गया है।


पूर्वी दिल्ली में स्थित राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में 650 बिस्तरों की सुविधा है और उसने पिछले साल शहर में महामारी से लड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। हॉस्पिटल के अधिकारियों ने आज यानी शुक्रवार को बताया कि अगले आदेश तक सभी गैर कोविड-19 सेवाओं को सस्पेंड कर दिया गया है।  


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।