Lockdown 4.0 शुरू होने के बावजूद कल तक देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 लाख पहुंचेगी!

कोरोनावायरस संक्रमण की वजह से मरने वालों की संख्या 3029 है जो पिछले 13 दिनों में डबल हो गई है
अपडेटेड May 18, 2020 पर 16:22  |  स्रोत : Moneycontrol.com

देश भर में 17 मई से चौथे चरण का लॉकडाउन आज से शुरू हो गया है। इसमें सरकार ने कई छूट दिए हैं। लेकिन मुश्किल ये है कि इससे पहले कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामलों में बहुत ज्यादा तेजी देखने को मिल रही है। पिछले दो दिनों में देश में कोरोनावायरस के मामलों की ग्रोथ 12 फीसदी रही। नंबर्स में देखें तो पिछले 24 घंटों में देशभर से कुल 5000 से ज्यादा मामले आए हैं। यह अब तक एक दिन में बढ़ने वाला सबसे ज्यादा मामले हैं।


भारत में कोरोनावायरस के मामले इस महीने बढ़े हैं। संक्रमण के मामले में भारत ने चीन को भी पीछे छोड़ दिया है। भारत में कोरोनावायरस के केस पिछले 12 दिनों में डबल हो गए हैं। कोरोनावायरस संक्रमण की वजह से मरने वालों की संख्या 3029 हो गई है। पिछले 13 दिनों में यह संख्या डबल हो गई है।


जिस हिसाब से पिछले दो दिनों में कोरोनवायरस के केस बढ़े हैं उस हिसाब से कल यानी 19 मई तक देश में कोरोनावायरस के कुल केस 1 लाख से ज्यादा हो सकते हैं। आने वाले दिनों में भारत के हेल्थ सिस्टम के लिए बहुत बड़ी चुनौती आने वाली है।


राज्यों की बात करें तो महाराष्ट्र की हालत बहुत खराब है। यहां 24,167 एक्टिव कैस हैं। एक्टिव केस यानी इतने लोग बीमार हैं। इनमें वो लोग शामिल नहीं हैं जो ठीक हो चुके हैं या जिनकी मौत हो चुकी है।


महाराष्ट्र के बाद 6974 मामलों के साथ तमिलनाडु है। इसके बाद गुजरात है। जहां पिछले एक हफ्ते में 700 से ज्यादा सुपर स्प्रेडर का पता चला है। यहां कुल 6221 मामले हैं। 5409 मामलों के साथ चौथे नंबर पर दिल्ली है। मध्य प्रदेश में 2326 केस हैं और यह पांचवें नंबर पर है। ये पांच राज्यों में ही कोरोनावायरस के 80 फीसदी से ज्यादा केस हैं।


बिहार में बढ़ रहे हैं मामले


पिछले 7 दिनों में बिहार, महाराष्ट्र और राजस्थान में कोरोनावायरस के मामले तेजी से बढ़े हैं। इस दौरान जो नए एक्टिव केस सामने आए हैं उनमें इन तीन राज्यों की हिस्सेदारी 65 फीसदी से ज्यादा है। पहले के हफ्तों के मुकाबले दिल्ली और पश्चिम बंगाल में नए मामलों की रफ्तार कम हुई है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।