Farmers Protest LIVE: किसानों को हटाने के लिए सिंघु बॉर्डर पर स्थानीय लोगों का प्रदर्शन

किसानों के आंदोलन से जुड़े सभी बड़े अपडेट्स यहां पढ़ें...
अपडेटेड Jan 28, 2021 पर 14:51  |  स्रोत : Moneycontrol.com

नए कृषि कानूनों (Farm Laws) के विरोध में किसानों का आंदोलन (Farmers Protest) अब भी जारी है। 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड (Tractor Parade) में हुई हिंसा और बवाल के बाद दिल्ली पुलिस (Delhi) भी एक्शन आ गई है। दूसरी तरफ किसान नेताओं ने बवाल की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए 1 फरवरी को प्रस्तावित संसद तक पैदल मार्च को स्थागित कर आंदोलन को जारी रखने की बात कही है। अब आरोप और प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है, जहां एक तरफ किसान नेता पुलिस और प्रशासन पर ट्रैक्टर रैली का रास्ता भटकाने का आरोप लगा रहे हैं, तो वहीं दिल्ली पुलिस ने किसान नेताओं पर विश्वासघात का आरोप लगाया है। पुलिस ने कहा कि नेताओं ने शांतिपूर्ण रैली निकालने का वादा किया था। किसानों के आंदोलन से जुड़े सभी बड़े अपडेट्स यहां पढ़ें...


किसान आंदोलन LIVE Updates:


- दिल्ली में सिंघु बॉर्डर पर खुद को स्थानीय बताने वाले लोगों ने जमा होकर वहां से किसानों को हटाने की मांग की और जमकर नारेबाजी भी की है।


- नोएडा दिल्ली के चिल्ला बॉर्डर के पास दलित प्रेरणा स्थल पर धरना दे रहे भारतीय किसान यूनियन लोकशक्ति ने भी गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद अपना धरना खत्म कर दिया है। BKU लोकशक्ति के अध्यक्ष मास्टर श्योराज सिंह ने आज इसकी घोषणा की है।


- दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा में घायल हुए पुलिस कर्मियों से मिलने सुश्रुत ट्रॉमा सेंटर पहुंचे।


- दिल्ली पुलिस ने भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत को नोटिस जारी करते हुए पूछा कि 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली को लेकर पुलिस के साथ हुए समझौते को तोड़ने के लिए उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई क्यों न की जाए। पुलिस ने गाजीपुर बॉर्डर पर उनके टैंट के बाहर नोटिस लगाया है।  


- दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सिविल लाइन के तीरथराम शाह अस्पताल में 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा में घायल हुए पुलिस कर्मियों से मुलाकात की।
 


- दिल्ली पुलिस ने इमिग्रेशन की मदद से किसान नेताओं के खिलाफ लुकआउट नोटिस (LOC) जारी किया है। साथ ही दिल्ली पुलिस इस प्रक्रिया तहत इन नेताओं के पासपोर्ट भी जब्त करेगी।    


-दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर रैली को लेकर पुलिस के साथ हुए समझौते को तोड़ने के लिए योगेंद्र यादव, बलदेव सिंह सिरसा, बलबीर एस राजेवाल समेत कम से कम 20 किसान नेताओं को नोटिस जारी किया है। उन्हें 3 दिनों में जवाब देने के लिए कहा गया है।


- आधिकारियों ने बताया कि अमित शाह गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा में घायल हुए पुलिसकर्मियों को देखने के लिए 2 अस्पतालों का दौरा करेंगे। 


- सिंघु बॉर्डर पर सुरक्षाबल तैनात है। कृषि कानूनों के खिलाफ सिंघु बॉर्डर पर किसानों का विरोध-प्रदर्शन जारी है।
 


 


- कृषि कानूनों के खिलाफ टिकरी बॉर्डर पर किसानों का विरोध प्रदर्शन आज 64वें दिन भी जारी है।
 



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।