WHO के एग्जिक्यूटिव बोर्ड के चेयरमैन बनेंगे हर्षवर्द्धन, जापान के नाकातानी की लेंगे जगह

22 मई को बैठक में हर्षवर्द्धन को 34 सदस्यीय एग्जिक्यूटिव बोर्ड का चेयरमैन चुना जाएगा
अपडेटेड May 20, 2020 पर 13:01  |  स्रोत : Moneycontrol.com

केंद्रीय हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्द्धन 22 मई को WHO की एग्जिक्यूटिव बोर्ड की बैठक में चेयरमैन चुने जा सकते हैं। भारत में कोरोनावायरस संक्रमण के खिलाफ वह पूरे दमखम से लगे हुए हैं। हर्षवर्द्धन जापान के डॉक्टर हिरोकी नाकातानी की जगह लेंगे। नाकातानी फिलहाल 34 सदस्यीय WHO के एग्जिक्यूटिव बोर्ड के चेयरमैन हैं। 


नाम जाहिर ना करने की शर्त पर अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को 194 देशों की वर्ल्ड हेल्थ असेंबली में हर्षवर्द्धन को एग्जिक्यूटिव बोर्ड के अध्यक्ष नियुक्त करने के प्रस्ताव पर साइन किया गया था।


पिछले साल ही हर्षवर्द्धन को WHO के साउश ईस्ट एशिया ग्रुप के नॉमिनी के तौर पर बिना किसी विरोध के चुन लिया गया था। उसके बाद 22 मई की बैठक में इसका औपचारिक तौर पर चयन किया जाएगा। हर्षवर्द्धन को तीन साल के लिए WHO के एग्जिक्यूट बोर्ड के चेयरमैन पद के लिए चुना जाएगा।


चेयरमैन का पद रीजनल ग्रुप में एक-एक साल के लिए दिया जाता है। पिछले साल यह पद भारत को देने का फैसला किया गया था जिसकी शुरुआत शुक्रवार 22 मई से होगी।


एक अधिकारी ने बताया कि यह फुल टाइम असाइनमेंट नहीं है। इसमें हर्षवर्द्धन को सिर्फ बोर्ड बैठक में चेयरमैन के तौर पर रहना होगा। इस बोर्ड की बैठक साल में दो बार होती है। आमतौर पर इसकी पहली बैठक जनवरी और दूसरी बैठक मई में होती है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।