इन्फोसिस के CEO सलिल पारेख को फाइनेंस मिनिस्ट्री ने किया तलब, नए e-filing पोर्टल पर आ रही है गड़बड़ी

फाइनेंस मिनिस्ट्री ने इन्फोसिस के MD और CEO सलिल पारेख को 23 अगस्त को तलब किया है
अपडेटेड Aug 23, 2021 पर 08:08  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Income Tax Portal: काफी वक्त से नए इनकम ई-फाइलिंग पोर्टल में तकनीकी खामियां देखने को मिल रही हैं। ऐसे में फाइनेंस मिनिस्ट्री (Ministry of Finance) ने देश की बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनी इन्फोसिस (Infosys) के MD और CEO  सलिल पारेख (Salil Parekh) को समन जारी किया है।


23 अगस्त 2021 को इन्फोसिस के पारेख को यह बताने के लिए बुलाया गया है कि नए ई-फाइलिंग पोर्टल के लॉन्च होने के 2.5 महीने बीत जाने के बाद भी अब तक उससे जुड़ी समस्याएं ठीक क्यों नहीं हुई हैं? मिनिस्ट्री ने इस बात की जानकारी एक ट्वीट के जरिए दी है।


 


यह दूसरी बार है जब कंपनी इनकम टैक्स पोर्टल में गड़बड़ियों को लेकर फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) से मुलाकात करेगी। टैक्सपेयर्स को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। 21 अगस्त से यह पोर्टल टैक्सपेयर्स के लिए उपलब्ध नहीं हो पा रहा है, क्योंकि इसमें कुछ तकनीकी खामी बताई जा रही है।


टैक्सेबल इनकम नहीं होने पर भी हो सकती है ITR दाखिल करने की जरूरत


इन्फोसिस ने 21 अगस्त को ट्वीट कर कहा था कि इनकम टैक्स इंडिया के पोर्टल को maintenance के चलते फाइलिंग नहीं कर सकते हैं। जैसे टैक्सपेयर्स के लिए पोर्टल फिर से शुरू हो जाएगा। हम एक अपडेट पोस्ट करेंगे। आपकी असुविधा के लिए हमें खेद है।


इससे पहले फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने कहा था कि वह इस मामले में इन्फोसिस को लगातार ध्यान दिला रही हैं। जल्द ही उन्होंने समस्याओं को सुलझाने के लिए कहा है।  


इंफोसिस को 2019 में next-generation इनकम टैक्स फाइलिंग सिस्टम को बनाने के लिए कॉन्ट्रैक्ट (contract) दिया गया था। इसमें ऐसा सिस्टम बनाना था कि रिटर्न की समयसीमा को 63 दिन से घटाकर एक दिन कर दिया जा सके और रिफंड में तेजी लाई जा सके।


IT डिपार्टमेंट ने NCR में टेलीकॉम उपकरण का बिजनेस करने वाली कंपनी पर मारा छापा, लाखों रुपये नगद बरामद


7 जून को लॉन्च हुआ था नया पोर्टल


बता दें कि पिछले 7 जून को काफी जोरशोर से नए इनकम टैक्स पोर्टल www.incometax.gov.in को लॉन्च किया गया था। इसकी लॉन्चिंग से ही पोर्टल पर कई तकनीकी दिक्कतें आ रही हैं। इसी के चलते सीतारमण ने 22 जून को इन्फोसिस के अधिकारियों के साथ मीटिंग की थी। इंफोसिस ने ही इस नई वेबसाइट को तैयार किया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।