तमिलनाडु में ज्वैलर्स, बुलियन ग्रुप के ठिकानों पर Income Tax का छापा, 1,000 करोड़ की ब्लैकमनी मिलने का दावा

इनकम टैक्स के मुताबिक, 1000 करोड़ रुपये की बेहिसाब संपत्ति का पता चला है। इसके अलावा 1.2 करोड़ रुपये कैश जब्त किया गया है
अपडेटेड Mar 08, 2021 पर 07:09  |  स्रोत : Moneycontrol.com

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (Income Tax Department) ने 2 बड़े ज्वैलरी से जुड़े कारोबारियों के ठिकानों पर छापेमारी की है। जिन दो ग्रुपों के ठिकानों पर छापे मारे गए हैं, उनमें से एक तमिलनाडु का लीडिंग बुलियन ट्रेडर और दूसरा ज्वेलरी रिटेलर है। यह छापेमारी 4 मार्च को चेन्नई, मुंबई, कोयंबटूर, मदुरई, त्रिची, त्रिशूर, नेल्लोर, जयपुर और इंदौर के 27 ठिकानों पर किया गया। इन छापों में 1000 करोड़ रुपये की बेहिसाब संपत्ति का पता चला है। इसके अलावा 1.2 करोड़ रुपये कैश भी जब्त किए गए हैं।


केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (Central Board of Direct Taxes - CBDT) ने दावा किया कि छापेमारी के दौरान 1.2 करोड़ रुपये की अघोषित नकदी भी जब्त की गई। CBDT ने एक बयान जारी कर दावा किया कि बुलियन ट्रेडर के परिसर से मिले सबूतों से इस बात का खुलासा हुआ है कि नकद बिक्री, फर्जी नकदी क्रेडिट, डिमॉनिटाइजेशन के दौरान बेहिसाब कैश डिपॉजिट, खरीद के लिए लोन की आड़ में डमी अकाउंट्स में नकदी जमा किए गए थे।


ज्वैलरी रिटेलर के परिसर में पाए गए सबूतों से पता चला है कि टैक्सपेयर्स ने लोकल फाइनेंसरों से कैश में लोन लिया और चुकाया। बिल्डरों को कैश लोन दिया और रियल एस्टेट प्रॉपर्टी में कैश इन्वेस्टमेंट किया, बेहिसाब सोने बुलियन की खरीद की, गलत तरीके से खराब कर्जों का दावा किया। इसके अलावा पुराने सोने को बारीक सोने और आभूषण बनाने आदि में बलने के सबूत भी मिले हैं। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।