IRCTC टिकट बुकिंग: कल से शुरू होने वाली ट्रेन की टाइमिंग और नए नियम जानिए

कल यानी 12 मई से इंडियन रेलवे 15 जोड़ी ट्रेन शुरू करने वाली है, मांग ज्यादा रही तो रेलवे नई ट्रेन भी शुरू कर सकती है
अपडेटेड May 11, 2020 पर 14:55  |  स्रोत : Moneycontrol.com

इंडियन रेलवे 12 मई से पैसेंजर ट्रेन की सर्विस शुरू करने वाली है। देश में कोरोनावायरस संक्रमण रोकने के लिए 22 मार्च से ही ट्रेन की सर्विस बंद कर दी गई थी। इंडियन रेलवे के मुताबिक, फिलहाल 15 स्पेशल ट्रेन चलेंगी। ये ट्रेन दिल्ली से खुलेंगी और मुंबई, बेंगलुरु और चेन्नई जाएंगी।


इस महामारी की वजह से देश में 67,000 से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। इस मुश्किल दौर में रेलवे को अपने कामकाज का तरीका भी बदलना पड़ रहा है। मसलन, अब सिर्फ ऑनलाइन टिकट बुक हो सकती है। यात्रियों के लिए मास्क पहनना, आरोग्य सेतू ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य है। अगर आप भी टिकट बुक कराना चाहते हैं तो जान लीजिए नए बदलाव क्या हैं?


ये हैं बदलाव


कल यानी 12 मई से इंडियन रेलवे 15 जोड़ी ट्रेन शुरू करने वाली है। अगर मांग ज्यादा रही तो रेलवे नई ट्रेन भी शुरू कर सकती है। रेलवे हर दिन 300 श्रमिक स्पेशल ट्रेन भी चला रही है। साथ ही कोरोनावायरस केयर सेंटर के लिए रेलवे ने 20,000 कोच अलग रखा है।


स्पेशल ट्रेन नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से चलेंगी और डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू-तवी जाएंगी।


टिकट की बुकिंग सिर्फ IRCTC की ऑफिशियल वेबसाइट पर होगी। इन ट्रेनों में तत्काल टिकट या प्रीमियम टिकट का रिजर्वेशन नहीं होगा। टिकटों की बुकिंग आज शाम 4 बजे से होगी।


रेलवे ने चेतावनी दी है कि सिर्फ कंफर्म और सही टिकट वालों को ही स्टेशन में दाखिल होने दिया जाएगा।


ये स्पेशल ट्रेन एयर-कंडीशंड होंगी। इसके टिकट का किराया राजधानी के बराबर होगी। इस ट्रेन के कुछ तय स्टॉपेज होंगे।


ट्रेन में बैठने से पहले पैसेंजर की पूरी स्क्रीनिंग होगी। इसके लिए कम से कम एक घंटा जल्दी स्टेशन पहुंचना होगा।


जिन लोगों में कोरोनावायरस के लक्षण नहीं होंगे सिर्फ उन्हें ही यात्रा करने की इजाजत दी जाएगी।


यात्रा के दौरान मास्क पहनना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही टिकट पर लिखा होगा कि आपको क्या करना है और क्या नहीं करना है। पैसेंजर्स के पास आरोग्य सेतू ऐप डाउनलोड होना चाहिए।


श्रमिक ट्रेनों से उलट ये स्पेशल ट्रेन फुल कैपेसिटी से चलेंगी। यानी एक डब्बे के सभी 72 सीटों पर बुकिंग होगी। जबकि श्रमिक स्पेशल ट्रेन के एक डिब्बे में अधिकतम 54 यात्रियों के बैठने की अनुमति दी।


इस ट्रेन के टिकट पर कोई छूट नहीं मिलेगी।


AC ट्रेन होने के बावजूद इसमें यात्रियों को कंबल या तौलिया नहीं दिया जाएगा। रेलवे के इस कदम का मकसद संक्रमण कम करना है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।