तमिलनाडु में 31 दिसंबर तक बढ़ा लॉकडाउन, लेकिन शर्तों के साथ मिली यह छूट

तमिलनाडु के सीएम पलानीस्वामी ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए जनता से मास्क पहनने और स्वच्छता बनाए रखने की अपील की है
अपडेटेड Dec 01, 2020 पर 10:03  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Tamil Nadu: तमिलनाडु सरकार ने कुछ शर्तों में ढील देने के साथ 31 दिसंबर तक लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया है। कंटेनमेंट जोन में कोई ढील नहीं दी गई है। राज्य के सीएम के पलानीस्वामी (K Palaniswami) ने कोरोना वायरस महामारी के प्रसार को रोकने के लिए मास्क पहनने और स्वच्छता बनाए रखने की अपील की है। पलानीस्वामी ने कहा कि सामाजिक, राजनीतिक और एंटरटेनमेंट के इवेंट को मंजूरी दी जाएगी। साथ ही 7 दिसंबर से ग्रुजेएशन के फाइनल ईयर की कक्षाएं शुरू कर दी जाएंगी।


यहां मिली छूट


- तमिलनाडु सरकार ने राज्य में एक बार फिर पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कई नई छूट देने का फैसला किया है. सरकार की नई गाइडलाइन के मुताबिक 14 दिसंबर से मरीन बीच एक बार फिर पर्यटकों को खोल दिया जाएगा।


- 1 दिसंबर से स्वीमिंग पूल खोल दिए जाएंगे।


-   राज्य के सीएम ने कहा है कि 7 दिसंबर से सभी कॉलेज और यूनिवर्सिटी के आर्ट्स, साइंस, टेक्निकल, इंजीनियरिंग और एग्री कॉलेज फाइनल ईयर के छात्रों के लिए खुल जाएंगे। 


- सीएम ने आगे कहा कि UG और PG के मेडिकल और पैरा मेडिकल की कक्षाएं भी 7 दिसंबर से शुरू हो जाएंगी। 


- साल 2020-21 में जो नए एडमिशन हुए हैं, उनकी कक्षाएं फरवरी 2021 से शुरू होंगी।
- सामाजिक, राजनीतिक और एंटरटेनमेंट के कार्यक्रमों के लिए भी गाइडलाइंस जारी की गई है। इन कार्यक्रमों को बंद जगहों पर 50 फीसदी क्षमता के साथ किए जा सकेंगे। कलेक्टर या फिर चेन्नई पुलिस की अनुमति के साथ इन कार्यक्रमों में 200 लोग शामिल हो सकते हैं।


बता दें कि तमिलनाडु में कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी देखी जा रही है।  रविवार को संक्रमण के कारण नौ मरीजों की मौत हुई, जिससे राज्य में मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 11,703 हो गई है। राज्य में पिछले 24 घंटे में 1,459 नए मामले सामने आए हैं। एक दिन में 1,471 लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 7,80,505 हो गई है। अब तक कुल 7,57,750 मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। राज्य में 11,052 एक्टिव केस हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twरitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।