अमेरिकी दवा कंपनी Moderna ने कोरोना वैक्सीन की इमरजेंसी उपयोग के लिए मांगी इजाजत

मॉडर्ना ने यह भी दावा किया है कि उसकी वैक्‍सीन मरीजों को गंभीर स्थिति में पहुंचने से रोकने में 100 फीसदी प्रभावी है
अपडेटेड Dec 01, 2020 पर 08:46  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अमेरिकी दवा कंपनी मॉडर्ना (Moderna) को अपने कोरोना वायरस वैक्सीन 94.1 फीसदी प्रभावी होने के बाद अमेरिकी और यूरोपीय मेडिसिन एजेंसी से सर्शत स्वीकृति के लिए एक आपातकालीन उपयोग करने का अनुरोध किया है। कोरोना वैक्‍सीन विकसित करने में की दौड़ में आगे चल रही मॉडर्ना इंक (Moderna Inc) ने दावा किया है कि उसका वैक्सीन बिना किसी गंभीर सुरक्षा चिंताओं के 94.1 फीसदी प्रभावी है। मॉडर्ना ने यह भी दावा किया है कि उसकी वैक्‍सीन मरीजों को गंभीर स्थिति में पहुंचने से रोकने में 100 फीसदी प्रभावी है।


Moderna कंपनी ने वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के बाद इसके प्रभाव का सूक्ष्म विश्लेषण किया और पाया कि इसकी प्रभावकारिता 94.1 प्रतिशत है। इस चरण के परीक्षण में 30 हजार से अधिक लोगों पर वैक्सीन का ट्रायल किया गया। वैक्सीन के सुरक्षा डेटा को कंपनी जमा कर रही है और उनका अध्ययन करेगी। इसके साथ ही मॉडर्ना इंक अमेरिका में फाइजर (Pfizer) और बायोएनटेक (BioNTech) के बाद दूसरी कंपनी बन गई है जिसने अपने प्रोडक्‍ट के आपात इस्‍तेमाल की अनुमति मांगी है।


Moderna Inc के मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी डॉ. टाल जैक्‍स (Dr. Tal Zaks) ने कहा कि हमें यकीन है कि हमारा कोरोना वैक्सीन बेहद प्रभावी है। हमारे पास इसे सिद्ध करने के लिए डाटा भी मौजूद है। हम उम्‍मीद कर रहे हैं कि कोरोना महामारी को खत्‍म करने में हम बड़ी भूमिका निभाएंगे। उन्‍होंने बताया कि वैक्‍सीन के 94.1 फीसदी कारगर होने की खुशी में उनकी आंखों से आंसू निकल आए थे।


इससे पहले दिग्‍गज दवा कंपनी फाइजर  और जर्मनी की उसकी साझेदार जर्मन लेबोरेटरी बायोएनटेक (German laboratory BioNTech) ने अपनी कोरोना वैक्‍सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन (US Food and Drug Administration, FDA) से मंजूरी देने की मांग की थी। दोनों कंपनियों ने दावा किया था कि उनका वैक्सीन कोरोना के हल्के और गंभीर संक्रमण में बचाने में 95 फीसद तक कारगर है। इन कंपनियों ने कहा था कि वैक्सीन के अच्छे रिकार्ड को देखकर इसके आपात इस्तेमाल को मंजूरी दी जानी चाहिए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।