Antilia Case: NIA ने मीठी नदी से बरामद किए नंबर प्लेट और DVR समेत अन्य अहम सबूत

NIA पेशेवर के साथ-साथ स्थानीय गोताखोरों की मदद ले रही है, जो मीठी नदी को अच्छी तरह से जानते हैं
अपडेटेड Mar 30, 2021 पर 14:43  |  स्रोत : Moneycontrol.com

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (National Investigation Agency, NIA) ने रविवार को मुंबई पुलिस के निलंबित अधिकारी सचिन वाजे (Sachin Vaze) को मीठी नदी ले गई और गोताखोरों की मदद से एक डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर (DVR), सीपीयू, एक लैपटॉप और दो नंबर प्लेट बरामद की। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इन दोनों नंबर प्लेट का रजिस्ट्रेशन नंबर एक ही है।


पिछले महीने अरबपति उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के दक्षिण मुंबई स्थित घर के बाहर एक वाहन मिला था, जिसमें विस्फोटक सामग्री रखी थी। इसके बाद इस विस्फोटक से भरी महिंद्रा स्कॉर्पियो के कथित मालिक व्यवसायी मनसुख हिरन की हत्या (Mansukh Hiren murder case) हो गई थी। NIA इस मामले की जांच कर रही है।


अधिकारी ने बताया कि गोताखोरों की मदद से तलाशी के दौरान NIA ने नदी से राउटर, कंप्यूटर कार्ट्रिज और अन्य सामग्री बरामद की। डीवीआर को कथित रूप से ठाणे में हाउसिंग सोसाइटी से हटा दिया गया था, जहां वाजे रहते हैं। अधिकारी ने बताया कि MIA की टीम दोपहर लगभग तीन बजे वाजे को बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में मौके पर ले गई। उन्होंने बताया कि तलाशी अभियान जारी है।


उन्होंने बताया कि NIA पेशेवर के साथ-साथ स्थानीय गोताखोरों की मदद ले रही है, जो मीठी नदी को अच्छी तरह से जानते हैं। और साक्ष्य बरामद किए जा सकते हैं। यह संदेह है कि सहायक पुलिस निरीक्षक रियाजुद्दीन काजी ने एजेंसी को पूछताछ के दौरान बताया था कि इन सबूतों को मीठी नदी में फेंक दिया गया था। वाजे के करीबी काजी से हाल में एनआईए ने कई बार पूछताछ की थी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।