Night Curfew: UP के इन शहरों में रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू, जानिए दिल्ली का हाल...

देश में पिछले 24 घंटे में 2,00,739 नए मामले सामने आए हैं और 1,038 लोगों की मौत हो गई है
अपडेटेड Apr 15, 2021 पर 17:18  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Night Curfew: देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में दिनों दिन इजाफा होता जा रहा है। गुरुवार को नए संक्रमित मरीजों की संख्या 200,000 का आंकड़ा पार कर गई। पिछले 24 घंटे में 2,00,739 नए मामले सामने आए हैं। यह अब तक का एक दिन का सबसे बड़ा रिकॉर्ड है।


यूनियन हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, लगातार दूसरे दिन 1,000 से अधिक लोगों की मौत हुई है। अब तक कुल 1,40,74,564 संक्रमित मरीजों में एक्टिव मामलों की संख्या 14,71,877 है। जबकि 1,24,29,564 लोग डिस्चार्ज हो गए हैं और कुल 173,123 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में अब तक कुल 11,44,93,238 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है।


पिछले साल जब से महामारी फैली है उसके बाद से उत्तर प्रदेश और दिल्ली में बुधवार को सबसे अधिक नए मामले सामने आए हैं। उत्तर प्रदेश में 20,510 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 744,021 पहुंच गई है। राज्य में एक्टिव मामलों की संख्या 1,11,835 हो गई है।


कोरोना संक्रमित मरीजों की तादाद बढ़ने पर राज्य सरकार ने नोएडा, लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज, गाजियाबाद, मेरठ, कानपुर नगर और गोरखपुर में रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा दिया है। राज्य सरकार ने नाइट कर्फ्यू के समय में बढ़ोतरी कर दी है।


देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 17,282 नए मामले सामने आए हैं। एक दिन में 9,952 लोग डिस्चार्ज हुए हैं और 104 लोगों की मौत हो गई है। राज्य में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 7,67,438 हो गई है। जिसमें एक्टिव मामलों की संख्या 50,736 है। अब तक कुल 7,05,162 लोग ठीक हो चुके हैं और कुल 11,540 लोगों की मौत हो चुकी है।


राज्य के सीएम अरविंद केजरीवाल ने वीकेंड लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है। सीएम केजरीवाल ने कहा है कि आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को पास जारी किए जाएंगे और सभी जिम, मॉल और ऑडोटोरियम बंद रहेंगे। सीएम ने कहा है कि रेस्टोरेंट में बैठकर खाने की अनुमति नहीं है। केवल होम डिलिवरी सुविधा मौजूद रहेगी।


देश में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए पीएम मोदी ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश के राज्यपालों और उपराज्यपालों के साथ बुधवार को एक मीटिंग की थी। जिसमें पीएम मोदी ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के राज्यपालों और लेफ्टिनेंट गवर्नरों को सलाह दी कि माइक्रो कंटेनमेंट को लेकर यह सुनिश्चित करने के लिए कि सामाजिक संस्थान राज्य सरकारों के साथ सहज सहयोग कर रही हैं, वो सक्रिय रूप से दखल दे सकते हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।