अगर Post office में आपका भी है अकाउंट, तो जान लें ये नए नियम

1 अप्रैल 2021 से लागू होने वाले नए पोस्ट ऑफिस अकाउंट (Post Office Account) नियम पर निश्चित रूप से ही आपको ध्यान होगा
अपडेटेड Mar 06, 2021 पर 19:01  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अगर पोस्ट ऑफिस (Post Office) में आपका अकाउंट है, तो 1 अप्रैल 2021 से लागू होने वाले नए पोस्ट ऑफिस अकाउंट (Post Office Account) नियम पर निश्चित रूप से ही आपको ध्यान होगा। अब नए नियमों के अनुसार, जमा और निकासी नियम अलग-अलग डाकघर के खातों पर लागू होंगे और यह राशि पोस्ट ऑफिस खाते की प्रकृति के अनुसार अलग-अलग होगी।


बेसिक सेविंग्स अकाउंट पर लगने वाले चार्ज


बेसिक सेविंग्स अकाउंट पर इंडिया पोस्ट जो चार्ज लेगा, वो कुछ इस तरह होगा- एक महीने में चार बार कैश निकालने पर कोई शुल्क नहीं होगा, लेकिन उसके बाद प्रत्येक लेनदेन पर कुल निकाली गई राशि में 25 रुपए या 0.5 फीसदी चार्ज लगेगा। जमा करने के लिए कोई शुल्क लागू नहीं होगा।


इंडिया पोस्ट सेविंग अकाउंट और करंट अकाउंट पर लगने वाले चार्ज


सेविंग और करंट अकाउंट के लिए: हर महीने 25000 रुपये निकालने पर कोई शुल्क नहीं लगाया जाएगा, लेकिन उसके बाद हर लेनदेन पर कुल निकाली गई राशि में से 25 रुपए या 0.5 फीसदी चार्ज लगेगा। वहीं अगर आप महीने में 10,000 रुपये तक का कैश डिपॉजिट करते हैं, तो कोई चार्ज नहीं लगेगा, लेकिन इससे ज्यादा जमा करने पर हर जमा पर कम से कम 25 रुपए चार्ज लगेगा।


इंडिया पोस्ट AePS अकाउंट पर लगने वाला चार्ज


आईपीपीबी नेटवर्क पर असीमित मुफ्त लेनदेन होते हैं, लेकिन नॉन-आईपीपीबी के लिए केवल तीन बार ही मुफ्त लेनदेन किया जा सकता है। ये नियम मिनी स्टेटमेंट, कैश निकालने और कैश जमा करने के लिए है। AePS में फ्री लिमिट खत्म होने के बाद हर ट्रांजैक्शन पर एक चार्ज देना होगा। सीमा समाप्त होने के बाद किसी भी जमा राशि पर 20 रुपए का चार्ज लगेगा।


मिनी स्टेटमेंट लेने के लिए आपको 5 रुपए चार्ज देना होगा। अगर लिमिट खत्म होने के बाद पैसों का लेनदेन किया जाता है, तो लेनदेन राशि का 1% शुल्क लिया जाएगा, जो न्यूनतम 1 रुपए और अधिकतम 20 रुप होगा। ध्यान रहे इन चार्ज पर GST और सेस भी लगाया जाएगा।


पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट से निकासी की सीमा बढ़ा दी गई है


इसके अलावा, एक और ध्यान देने वाली बात यह है कि ग्रामीण डाकघर बचत खाताधारकों को आसानी प्रदान करने के लिए, इंडिया पोस्ट ने घोषणा की है कि वह पोस्ट ऑफिस जीडीएस (ग्रामीण डाक सेवा) शाखाओं में निकासी की सीमा को बढ़ाएगा और अब ये सीमा 5000 रुपये से बढ़ा कर 20000 प्रति ग्राहक कर दी गई है। इस कदम का उद्देश्य समय के साथ डाकघर की जमा राशि बढ़ाना है।


डाकघर में बचत खाते में कम से कम 500 रुपए होने चाहिए और 500 रुपए से कम रकम होने पर 100 रुपए चार्च काटा जाएगा। वहीं अकाउंट पैसा न होने पर अकाउंट टर्मिनेट कर दिया जाएगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।