राज कुंद्रा WhatsApp Group के जरिए चलाते थे पॉर्न बिजनेस, पुलिस की जांच में खुलासा

पुलिस दो और WhatsApp Group की जांच पड़ताल में जुटी हुई है। एक फोन को पुलिस ने जब्त कर लिया है
अपडेटेड Jul 22, 2021 पर 12:13  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Raj Kundra: बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) के पति राज कुंद्रा ((Raj Kundra) के पॉर्न वीडियो के मामले रोज नए खुलासे हो रहे हैं।


मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच अब तक इस मामले में 11 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। अब क्राइम ब्रांच की टीम ने एक बड़ा खुलासा किया है। क्राइम ब्रांच का कहना है कि राज कुंद्रा ने दावा किया था कि उसने अपने बिजनेस को ब्रिटेन में रह रहे साले (brother-in-law) को बेच दिया है, लेकिन यह झूठा साबित हुआ है।


जांच में यह बात सामने आई है कि कुंद्रा हॉटशॉट्स (HS) को ऑपरेट करने के लिए होने वाले फैसले में हमेशा शामिल रहे हैं। इसके लिए बतौर पाइरेसी से बचाने के लिए एक लीगल टीम भी बनाई थी। यह लीगल टीम भारत और विदेश में कॉपी राइट्स के मामले देखती थी। 


मैंने राज कुंद्रा का ऐप देखा था, लेकिन उसमें ज्यादा कुछ था नहीं - मीका सिंह


पुलिस की शुरुआती जांच पड़ताल में पता चला है कि राज कुंद्रा पॉर्न फिल्मों के बिजनेस को चलाने के लिए 3 WhatsApp ग्रुप बनाए थे। इसमें एक WhatsApp group का नाम है HS Account। इस ग्रुप के एडमिन कुंद्रा ही थे। इस ग्रुप का इस्तेमाल रेवेन्यू और सेल्स के लिए होता था। इस फोन को पुलिस ने जब्त कर लिया है और दो अन्य ग्रुप की जांच में पुलिस जुटी हुई है।


Raj Kundra पर YouTuber पुनीत कौर ने लगाए आरोप, कहा- Hotshots के लिए मुझे भी किए थे मैसेज 


कुंद्रा के दूसरे WhatsApp ग्रुप का नाम HS Take Down है। इसके भी एडमिन कुंद्रा हैं। इस ग्रुप में कुंद्रा की लीगल टीम जुड़ी हुई है। इस ग्रुप का मकसद रहता था कि कंटेन्ट चोरी न हो। हॉटशॉट्स ऐप पर जो पॉर्न फिल्में अपलोड की गई हैं वो फिल्में किसी अन्य पॉर्न वेबसाइट या पोर्टल या ऐप में न मिले।


अगर यह कंटेंट किसी दूसरी साइट मिल जाता था उस वेबसाइट को नोटिस भेजना और कंटेंट ब्लॉक के साथ ही उस पर कानूनी नोटिस भेजने का काम लीगल टीम को सौपा गया था। आने वाले समय में इस लीगल टीम पर कई सवाल उठ सकते हैं।


 Raj Kundra: पश्मिना कारोबारी से बिजनेस टायकून तक का सफर और विवादों का झमेला


तीसरे WhatsApp ग्रुप का नाम HS Take Operation है। इसके भी एडमिन कुंद्रा ही हैं। इस ग्रुप का इस्तेमाल एक्टर के बारे में चर्चा करना, स्टोरीलाइन, एडिट, लोकेशन, क्रू मेंबर और फाइनल रोल आउट के बारे में चर्चा की जाती थी। मुंबई पुलिस के सूत्रों ने कहा कि वो पूरी तरह से WhatsApp चैट पर भरोसा नहीं कर रहे हैं। उनसे भी पूछताछ की जा रही है जो इस ग्रुप से जुड़े हैं और चर्चा में शामिल रहे। उन्होंने आगे कहा कि HS Take Down ग्रुप बेहद खास है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।