RBI ने आंध्र प्रदेश के कुप्पम को-ऑपरेटिव टाउन बैंक पर लगाया पांच लाख रुपए का जुर्माना

RBI की तरफ से जारी निर्देशों के कुछ प्रावधानों के उल्लंघन पर कार्रवाई की गई है
अपडेटेड Sep 15, 2021 पर 08:59  |  स्रोत : Moneycontrol.com

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में स्थित कुप्पम को-ऑपरेटिव टाउन बैंक पर 5 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है। मंगलवार को RBI ने एक बयान में ये जानकारी दी है। RBI की तरफ से जारी निर्देशों के कुछ प्रावधानों के उल्लंघन पर कार्रवाई की गई है, जिसमें शहरी सहकारी बैंकों के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स पर आय मान्यता पर मास्टर सर्कुलर, असेट्स क्लासिफिकेशन, प्रावधान और दूसरे संबंधित मामलों और मास्टर सर्कुलर का उल्लंघन शामिल है।


RBI ने कहा, "बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट, 1949 की धारा 46 (4) (i) और धारा 56 के साथ पठित धारा 47A (1) (C) के प्रावधानों के तहत RBI को मिलीं शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए, उपरोक्त निर्देशों का पालन करने में बैंक की विफलता के चलते ये जुर्माना लगाया गया है।"


शीर्ष बैंक ने आगे कहा, "ये कार्रवाई रेगुलेटरी कंपलाइंस में कमियों पर आधारित है और बैंक की तरफ से अपने ग्राहकों के साथ किए गए किसी भी लेनदेन या समझौते की वैधता पर कोई बदलाव करने का इरादा नहीं है।"


31 मार्च 2019 को बैंक की वित्तीय स्थिति के आधार पर एक जांच रिपोर्ट में सहकारी बैंक की ओर से नॉन-कंपलाइंस दिखाया गया था, जिसके बाद एक कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था, जिसमें बैंक से पूछा गया था कि इसके लिए उस पर जुर्माना क्यों नहीं लगाया जाना चाहिए।


RBI ने आगे कहा, "व्यक्तिगत सुनवाई के दौरान बैंक के लिखित उत्तर और मौखिक प्रस्तुतियों पर विचार करने के बाद, RBI इस निष्कर्ष पर पहुंचा कि RBI के निर्देशों का पालन न करने के सभी आरोपों की पुष्टि हुई और मौद्रिक दंड लगाया जाना जरूरी है।"


एक अलग आदेश में RBI ने भारत में PPI जारी करने और ऑपरेट करने पर रिज़र्व बैंक की तरफ से जारी 11 अक्टूबर 2017 के मास्टर डायरेक्शन में दिए गए निदेशों के कुछ प्रावधानों के उल्लंघन के लिए स्पाइस मनी लिमिटेड (इकाई) पर 2.44 लाख रुपए (दो लाख चौवालीस हजार रुपए) का मौद्रिक जुर्माना भी लगाया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।