सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा, दिसंबर से मिलेगी Covid-19 वैक्सीन लेकिन दो शर्तों पर...जानिए क्या?

सीरम इंस्टीट्यूट के CEO आदर पूनावाला ने कहा, UK में ट्रायल के नतीजे अगर ठीक आते हैं तो वह इमरजेंसी ऑथराइजेशन के लिए आवेदन करेगी
अपडेटेड Oct 29, 2020 पर 09:36  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के CEO आदर पूनावाला (Adar Poonawala) ने कहा है कि कोरोनावायरस की एक वैक्सीन Covidshield के नतीजे काफी अच्छे आए हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि अभी इस वैक्सीन में यूके से आने वाले डाटा को भी देखना जरूरी है। उन्होंने कहा कि अभी भारत के ड्रग रेगुलेटर से मिलने वाली मंजूरी पर भी यह निर्भर करता है कि यह दवा कब मिलेगी।


सीरम इंस्टीट्यूट ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर वैक्सीन बना रही है। कंपनी ने कहा कि यूके में ट्रायल के नतीजे अगर ठीक आते हैं तो वह इमरजेंसी ऑथराइजेशन के लिए आवेदन करेगी। भारत सरकार ने पहले ऐसे संकेत दिए हैं कि अगर जरूरत पड़ती है तो किसी वैक्सीन को इमरजेंसी ऑथराइजेशन दी जा सकती है।


Covidshield को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के जेनर इंस्टीट्यूट में डेवलप हो रहा है। इसे एंग्लो-स्वीडिश दवा कंपनी एस्ट्राजेनेका डेवलप कर रही है। भारत में इस वैक्सीन का फाइनल ट्रायल 1600 लोगों पर हो रही है।


सीरम ने एक नई कंपनी- सीरम इंस्टीट्यूट लाइफ साइंसेज शुरू की है। इसका फोकस सिर्फ महामारी से जुड़ी दवाएं विकसित करने और सप्लाई करने पर है।


मंगलवार को पूनावाला ने कहा था कि ब्रिटिश दवा कंपनी एस्ट्राजेनका ने बताया है कि उसकी दवा का असर युवाओं और बुजुर्गों पर अच्छा हो रहा है। पूनावाला ने कहा था कि यह शुरुआती अच्छी खबर है।


पूनावाला ने ट्विटर पर लिखा था कि कई लोग उनसे पूछते हैं कि क्या शुरुआती वैक्सीन बुजुर्गों पर कारगर होगा तो यहां कुछ अच्छी खबर मिल रही है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।