Karnataka में लगा वर्चुअल लॉकडाउन, पुलिस ने बंद कराईं सभी गैर-जरूरी दुकानें और बाजार

सरकार ने वीकेंड लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू को बढ़ा दिया और बड़े समारोहों जैसे मॉल, थिएटर और पूजा स्थलों को दो हफ्ते के लिए बंद कर दिया
अपडेटेड Apr 23, 2021 पर 09:42  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कर्नाटक (Karnataka) में पुलिस (Police) ने गुरुवार दोपहर को अचानक से राज्य भर में गैर-जरूरी सेवाओं से जुड़ी कई दुकानों और वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों को बंद कर दिया। बेंगलुरु, हुबली, बेलागवी, तुमकुरु, मैसूरु और दूसरे शहरों और कस्बों में पुलिस सड़कों पर उतरी और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के शटर गिरा दिए।


द हिंदू के मुताबिक, सरकारी सूत्रों ने कहा कि स्पष्ट रूप से केवल फार्मेसियों, किराने का सामान, सब्जी / फलों की दुकानों / विक्रेताओं, डेयरी, मीट शॉप, सैलून और हार्डवेयर स्टोरों को छोड़कर बाकी को सभी दुकानों और व्यापारिक प्रतिष्ठानों को 4 मई तक के लिए बंद कर दिया गया है। इसके साथ ही राज्य में अगले दो हफ्तों के लिए एक वर्चुअल लॉकडाउन (Virtual lockdown) लगा दिया गया है।


सरकार ने वीकेंड लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू को बढ़ा दिया और बड़े समारोहों जैसे मॉल, थिएटर और पूजा स्थलों को दो हफ्ते के लिए बंद कर दिया। एक दिन के भीतर ही दिशानिर्देशों में बदलाव कर सभी दुकानों और स्टोर को बंद कर इस वर्चुअल लॉकडाउन में बदल दिया गया है।


मुख्य सचिव पी रवि कुमार ने बुधवार रात को दो हफ्ते के प्रतिबंधों और दिशानिर्देशों के लिए एक नोटिफिकेशन जारी किया था, जिसमें एक लाइन जोड़ी गई थी कि "उपरोक्त उल्लिखित सभी दुकानों और वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों को बंद रखा जाएगा", जिस पर शायद किसी का ध्यान नहीं गया।


एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा, "मंगलवार रात को जारी किए गए दिशानिर्देशों में कोई स्पष्टता नहीं थी, इसलिए बुधवार को एक नया आदेश जारी किया गया, लेकिन इसमें भी नियमों की ठीक से व्याख्या नहीं की गई थी, जिससे गुरुवार को इस तरह के भ्रम की स्थिति पैदा हो गई।"


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।