सुशांत के वकील का दावा गला घोंटकर हुई हत्या, AIIMS चीफ ने कहा-कुछ भी पक्का कहना मुमकिन नहीं

इसके पहले सुशांत सिंह राजपूत के परिवार ने ट्वीट किया था कि CBI के देरी करने से उनकी निराशा बढ़ती जा रही है
अपडेटेड Sep 26, 2020 पर 08:35  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सुशांत सिंह राजपूत (Sushan Singh Rajput) आत्महत्या मामले में उनके परिवार की तरफ से पैरवी कर रहे वकील विकास सिंह का दावा है कि अभिनेता की मौत गला दबाने से हुई है। इस पर AIIMS पैनल चीफ डॉक्टर सुधीर गुप्ता ने वकील विकास सिंह के दावों पर कहा है, "लिगेचर मार्क के हिसाब से दोनों हो सकता है। यानी सुशांत सिंह आत्महत्या भी कर सकते हैं और उनका गला भी घोंटा जा सकता है। लेकिन सिर्फ इस निशान को देखकर डॉक्टर कुछ कंफर्म नहीं कर सकते हैं। जबकि आम आदमी के लिए यह कहना और मुश्किल हो जाता है।"


इसके पहले सुशांत सिंह राजपूत के परिवार ने ट्वीट किया था कि CBI के देरी करने से उनकी निराशा बढ़ती जा रही है। परिवार का कहना है कि AIIMS टीम के एक डॉक्टर ने पहले फोटो देखकर कहा था कि यह 200 फीसदी हत्या लग रहा है। आत्महत्या नहीं हो सकती।


इस बीच शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआई जांच पर सवाल उठाया है। महाराष्ट्र टाइम्स में छपी खबर के अनुसार राउत ने कहा है कि एनसीबी जांच से हमें आपत्ति नहीं परंतु सुशांत की मौत के मामले में सीबीआई जांच का क्या हुआ, सीबीआई जांच कहां तक पहुंची है।


राउत ने कहा कि NCB एक राष्ट्रीय संस्था है। इसका काम राष्ट्रीय स्तर पर चलता है। विदेशों से हमारे देश में बड़े पैमाने पर ड्रग्स आता है और रैकेट को खतम करना एनसीबी का काम है। इस समय एक-एक लोगों को एनसीबी कार्यालय में बुलाकर पूछताछ की जा रही है। इस काम के लिए प्रत्येक शहर और राज्य के पुलिस दल में स्वतंत्र विभाग होने के बावजूद एनसीबी स्वयं ही स्थानीय स्तर पर जांच कर रही है। इसको लेकर हमें कोई आपत्ति नहीं है लेकिन सुशांत के मामले में सीबीआई जांच का क्या हुआ?


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।