Telangana: ऑटो से ले जाया गया Corona मरीज का शव, नियमों की उड़ाई गईं धज्जियां

तेलंगाना के निजामाबाद में कोरोना वायरस से जान गंवाने वाले एक शख्स के शव को ऑटो से ले जाने पर जिला कलेक्टर ने जांच के आदेश दे दिए हैं
अपडेटेड Jul 13, 2020 पर 07:29  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना वायरस का प्रकोप देश में बढ़ता चला जा रहा है। कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या दिनों दिन बढ़ती चली जा रही है। इसमें कई लोग जान भी गंवा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर कोरोना संक्रमण के शवों का दाह संस्कार करने को लेकर लगातार लापरवाही देखने को मिल रही है। अब एक ऐसी ही हैरान कर देने वाली तस्वीर सामने आई है। तेलंगाना (Telangana) के निजामाबाद सरकारी अस्पताल (Nizamabad Government Hospital) में कोरोना वायरस से जान गंवाने वाले शख्स के रिश्तेदार उसका शव ऑटो में रखकर दफनाने के लिए ले गए। ऑटो में शव इस तरह रखा हुआ है कि वह दोनों साइड से बाहर निकल रहा है। इस दौरान जिसने भी देखा वह हैरान रह गया।  यह कोरोना वायरस के नियमों का सीधा सा उल्लंघन है।


ANI की रिपोर्ट के मुताबिक, निजामाबाद सरकारी अस्पताल के अधीक्षक (Superintendent) डॉ. एन राव (Dr N Rao) ने कहा कि मृतक का एक रिश्तेदार अस्पताल में काम करता है। उसके अनुरोध पर शव सौंप दिया गया था। उसने एंबुलेंस (ambulance) का इंतजार नहीं किया। मामला सामने आने के बाद अब जिला कलेक्टर सी नारायण रेड्डी ने कहा कि उन्होंने इस घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं।


बता दें कि नियमों के अनुसार, कोरोना के कारण मौत होने के बाद व्यक्ति के शव को एंबुलेंस या एस्कॉर्ट वाहन में ले जाना चाहिए। शव को ले जाते समय कर्मचारियों को पीपीई किट (PPE Kit) पहनना होता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।