UPSC Exam 2021: कोरोना के कारण UPSC सिविल सर्विस की प्रीलिम्स परीक्षा स्थगित, ये है एग्जाम की नई डेट

UPSC civil services prelims 2021 exam & Union Public Service Commission (UPSC): पहले ये परीक्षा 27 जून, 2021 को आयोजित होने वाली थी, लेकिन अब 10 अक्टूबर 2021 को आयोजित की जाएगी
अपडेटेड May 13, 2021 पर 20:07  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना वायरस (कोविड -19) के मौजूदा परिस्थितियों के कारण संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2021 को टाल दिया है। अब यह परीक्षा 10 अक्टूबर 2021 को आयोजित की जाएगी। पहले UPSC प्रीलिम्स 2021 का आयोजन 27 जून 2021 को होने वाला था, लेकिन कोरोना संकट के कारण अब इसे स्थगित कर दिया गया है।


आयोग हर साल तीन चरणों- प्रारंभिक, मुख्य और साक्षात्कार- में सिविल सेवा परीक्षा कराता है जिसमें भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय विदेश सेवा (IFS) और भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के अधिकारी चुने जाते हैं।


यूपीएससी ने गुरुवार को एक बयान जारी कर कहा कि कोरोना वायरस के कारण पैदा हुई परिस्थितियों के मद्देनजर संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2021 स्थगित कर दी है जो 27 जून 2021 को होनी थी। अब यह परीक्षा 10 अक्टूबर 2021 को आयोजित की जाएगी।


देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) का तांडव थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले 24 घंटों के दौरान इस संक्रमण के 3.62 लाख से ज्यादा मामले दर्ज किए गए तथा लगातार दूसरे दिन 4,000 से ज्यादा मरीजों की मौत हुई है। इस बीच देश में पिछले 24 घंटों के दौरान 18,94, 991 लोगों को वैक्सीनेशन हुआ। इसके बाद अब तक 17 करोड़ 72 लाख 14 हजार 256 लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है।


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से गुरुवार की सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में कोरोना 3,62,727 नए मामले आने के साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर दो करोड़ 37 लाख 03 हजार 665 हो गया। वहीं, इस दौरान 3,52,181 लोग इस महामारी से ठीक हुए, जिसके बाद कोविड-19 को मात देने वालों की संख्या बढ़कर 1,97,34,823 हो गई।


देश में इस समय कोरोना के सक्रिय मामलों में की संख्या 37,10,525 है। इस दौरान 4,120 मरीज अपनी जान गंवा बैठे और इसके बाद इस महामारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 2,58,317 हो गई है। देश में रिकवरी रेट बढ़कर 83.26 फीसदी और सक्रिय मामलों की दर घटकर 15.65 प्रतिशत हो गई है। वहीं मृत्युदर अभी 1.09 फीसदी है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।