उत्तर प्रदेश में कोरोना के रिकॉर्ड 34,000 से अधिक नए केस आए, 195 लोगों की मौत

पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में रिकॉर्ड 34,379 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है
अपडेटेड Apr 23, 2021 पर 10:20  |  स्रोत : Moneycontrol.com

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कोरोना संक्रमण (Corona) ने विकराल रूप धारण कर लिया है। उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 संक्रमित 195 लोगों की मौत हो गई और 34,379 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई है। यह दोनों ही आंकड़े अब तक के सर्वाधिक हैं। इसके साथ राज्य में इस वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 10,541 हो गई है।


चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 34,379 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसी अवधि में 16,514 मरीज ठीक भी हुए हैं। प्रदेश में एक दिन में कोविड-19 संक्रमित मरीजों की मौतों और नए मरीजों का यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इससे पहले बुधवार को 187 मरीजों की मौत हुई थी तथा 33214 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि की गई थी।


प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में इस वक्त 2,59,810 कोविड-19 संक्रमित मरीजों का इलाज किया जा रहा है। इसके पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 संक्रमण की स्थिति की समीक्षा की। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि सीएम योगी ने बैठक में कहा कि प्रदेश के कुछ जिलों से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की आवश्यकता जताई गई है। स्वास्थ्य विभाग आज ही संबंधित जिलों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध कराए। इसकी उपलब्धता बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार से भी सहयोग लिया जा सकता है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड संक्रमित मरीजों के परिजनों के साथ यथोचित सम्मान के साथ संवेदनशील व्यवहार किया जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि अंतिम संस्कार की क्रिया कोविड प्रोटोकॉल के अनुरूप पूरे सम्मान के साथ संपन्न कराई जाए। सीएम योगी ने कहा कि केंद्र सरकार के सहयोग से प्रदेश को बहुत जल्द रेमडेसिविर की सवा लाख शीशी प्राप्त हो जाएंगी। इससे प्रदेश में रेमडेसिविर की आपूर्ति और व्यवस्थित हो जाएगी।


मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि बढ़ती मांग के अनुरूप राज्य सरकार द्वारा ऑक्सीजन आपूर्ति बढ़ाने के लिए सभी जरूरी प्रयास किए जा रहे हैं। वर्तमान में स्थिति पूरी तरह नियंत्रित है। उन्होंने कहा कि सभी छोटे-बड़े अस्पतालों की स्थिति पर हर वक्त नजर रखी जाए। सीएम योगी ने बताया कि लिक्विड ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए टैंकरों/सिलेंडरों का भी कोई अभाव नहीं है, फिर भी, बदलती परिस्थितियों को देखते हुए अतिरिक्त टैंकरों और सिलिंडरों की व्यवस्था तत्काल सुनिश्चित कराई जाए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.