Virtual bilateral summit: ऑस्ट्रेलिया के PM ने कहा, काश मैं वहां होता तो गले लगता

पीएम मोदी ने कहा, ऑस्ट्रेलिया के साथ रिश्ते मजबूत करने का यह बिल्कुल सही मौका और सही समय है
अपडेटेड Jun 05, 2020 पर 08:34  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पीएम नरेंद्र मोदी और ऑस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मॉरिसन अपनी तरह की पहली वर्चुअल बाइलैट्रल समिट (virtual bilateral summit) में शामिल हो रहे हैं। पीएम मोदी ने इस समिट की शुरुआत करते हुए सबसे पहले ऑस्ट्रेलिया में Covid-19 से प्रभावित लोगों और उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की। वर्चुअल बाइलैट्रल समिट (virtual bilateral summit) पर पीएम मोदी ने कहा कि इस वैश्विक महामारी ने हर तरह की व्यवस्था को प्रभावित किया है। और हमारे समिट का यह डिजिटल स्वरूप इसी का नतीजा है।


बाइलैट्रल समिटआस्ट्रेलियाई पीएम ने कहा, काश मैं वहां होता तो आपके गल लग सकता था जिसके लिए आप मशहूर हैं। कुछ दिनों पहले ऑस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मॉरिसन ने समोसा भी बनाया था जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ।


ऑस्ट्रेलियाई पीएम को दिया न्योता


पीएम ने ऑस्ट्रेलिया के पीएम मॉरिसन से कहा कि डिजीटल मुलाकात भारत यात्रा की जगह नहीं ले सकती है। पीएम मोदी ने कहा, "एक मित्र के नाते मेरा आपसे आग्रह है कि हालात सुधरने के बाद आप सपरिवार भारत यात्रा का प्लान करें।"


भारत-ऑस्ट्रेलिया संबंधों पर क्या बोले पीएम मोदी


पीएम मोदी ने कहा, भारत-ऑस्ट्रेलिया संबंध विस्तृत होने के साथ-साथ गहरे भी हैं। उन्होंने कहा, मेरा मानना है कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के संबंधों को और सशक्त करने के लिए यह बिल्कुल सही समय और बिल्कुल सही मौक़ा है। अपनी दोस्ती को और मज़बूत बनाने के लिए हमारे पास असीम संभावनाएं हैं।


भारत ऑस्ट्रेलिया के साथ अपने संबंधों को व्यापक तौर पर और तेज़ गति से बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। यह न सिर्फ़ हमारे दोनों देशों के लिए अहम है, बल्कि Indo-Pacific क्षेत्र और विश्व के लिए भी आवश्यक है।


पीएम मोदी ने कहा, "लेकिन मैं यह नहीं कहूंगा कि मैं इस गति से, इस विस्तार से संतुष्ट हूं। जब आप जैसा लीडर हमारे मित्र देश का नेतृत्व कर रहा हो, तो हमारे संबंधों में विकास की गति का मापदंड भी ambitious होना चाहिए।"


पीएम ने कहा, सरकार ने इस संकट को एक Opportunity की तरह देखने का निर्णय लिया है। भारत में लगभग सभी क्षेत्रों में व्यापक reforms की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। बहुत जल्द ही ग्राउंड लेवल पर इसके परिणाम देखने को मिलेंगे। उन्होंने कहा, इस कठिन समय में आपने ऑस्ट्रेलिया में भारतीय समुदाय का और ख़ास तौर पर भारतीय छात्रों का, जिस तरह ध्यान रखा है, उसके लिए मैं विशेष रूप से आभारी हूं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।