ज़ीरोधा के निखिल कामत ने चैरिटेबल शतरंज में चीटिंग से विश्वनाथन आनंद को हराया, लगी पाबंदी

कोरोनावायरस संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में फंड जुटाने के लिए विश्वनाथन आनंद सेलेब्रिटीज के साथ ऑनलाइन शतरंज खेल रहे थे
अपडेटेड Jun 14, 2021 पर 17:19  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Zerodha के निखिल कामत ने वर्ल्ड चैंपियन और ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद को एक चैरिटी शतरंज के खेल में हराया था। यह मैच ऑनलाइन  Chess.com पर हुआ था। हालांकि अब खुलासा हुआ है कि निखिल कामत ने कंप्यूटर्स और  एनालिस्ट्स (in-Game analysts) की मदद ली थी। इस बात की जानकारी  Chess.com ने दी थी।

चीटिंग करके गेम जीतने पर Chess.com ने निखिल कामत पर बैन लगा दिया है। यानी कामत अब Chess.com पर कोई गेम नहीं खेल सकते हैं।


विश्वनाथन आनंद कोरोनावायरस संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में फंड जुटाने के लिए ऑनलाइन शतरंज खेल रहे थे। उन्होंने आमिर खान, क्रिकेटर यजुवेंद्र चाहल और ज़ीरोधा के निखिल कामते के साथ ऑनलाइन शतरंज खेला था।


जहां दूसरे खिलाड़ी बड़ी आसान से हार गए। वहीं विश्वनाथन आनंद हैरतअंगेज ढंग से कामत से मैच हार गए। हालांकि कुछ दिनों बाद ही पता चल गया कि कामत ने चीटिंग की थी और उनपर इस प्लेटफॉर्म ने पाबंदी लगा दी है।


यह चैरिटेबल मैच 13 जून रविवार को खेला गया था। विश्वनाथन आनंद ने 14 जून को ट्वीट करके कहा, "कल का सेलेब्रिटी के साथ खेला गया मैच फंड जुटाने के लिए खेला गया था। यह बहुत मजेदार अनुभव था और गेम के एथिक्स को बनाकर रखा गया था। मैंने सिर्फ बोर्ड के पोजीशन के हिसाब से गेम खेला और मैं दूसरों से भी यही उम्मीद कर रहा था।"


शतरंज के फैन, 
निखिल कामत और विश्वनाथन आनंद के फॉलोअर्स ने कामत की आलोचना करने में वक्त नहीं लगाया। इसके बाद ज़ीरोधा के कोफाउंडर निखिल कामत ने कहा, "कल उन चुनिंदा दिनों में से एक था जिसका सपना मैंने बचपन से देखा था कि मुझे विश्वनाथन आनंद से बात करने का मौका मिलेगा।"


उन्होंने आगे ट्वीट किया, अक्षयपात्रा की वजह से मुझे यह मौका मिला। यह बहुत बुरा है कि कई लोगों को यह लगता है कि मैंने चेस में विश्वनाथन आनंद को हरा दिया। यह बिल्कुल ऐसा है जैसे मैं उसैन बोल्ट के साथ 100 मीटर रेस कर रहा हूं।


गेम एनालाइज करने वाले लोगों और कंप्यूटर से मुझे मदद मिली थी। निखिल कामत और नितिन कामत ने ज़ीरोधा ब्रोकरेज फर्म की शुरुआत की थी जिसकी वैल्यू हाल ही में 2 अरब डॉलर पहुंच गई।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।