Moneycontrol » समाचार » क्रेडिट कार्ड

कहीं आप गलत क्रेडिट रिपोर्ट का खामियाजा तो नहीं भुगत रहे? जानिए कैसे करना है फिक्स

क्रेडिट रिपोर्ट में गड़बड़ी होने पर आपका लोन या फिर क्रेडिट कार्ड एप्लीकेशन रिजेक्ट हो सकता है
अपडेटेड Jan 31, 2020 पर 09:07  |  स्रोत : Moneycontrol.com

खराब क्रेडिट स्कोर आपकी फाइनेंशियल सेहत बिगाड़ सकता है। लेकिन गलत क्रेडिट रिपोर्ट आपके लिए उससे भी बड़ा सिरदर्द बन सकता है। अगर आपके क्रेडिट रिपोर्ट में कुछ गलत हो जाए तो उसके चलते आपको कई दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। अपनी गलतियों से अपना क्रेडिट स्कोर खराब करना अलग बात और क्रेडिट रिपोर्ट का गलत हो जाना अलग बात है।


अपने क्रेडिट स्कोर खराब होने का खामियाजा तो आपको भुगतना ही पड़ेगा, लेकिन क्रेडिट रिपोर्ट में गलती हो जाने की कीमत आपको चुकानी पड़ जाए, इसके पहले ही इस दिक्कत को दूर कर लीजिए।


सबसे पहले यह जान लीजिए कि आपकी क्रेडिट रिपोर्ट CIBIL या Equifax जैसे क्रेडिट ब्यूरो तैयार करते हैं। रिपोर्ट तैयार करने के लिए क्रेडिट ब्यूरो आपकी और आपके क्रेडिट हिस्ट्री की डिटेल्स क्रेडिट फर्निशर यानी बैंक, NBFCs और ऐसे ही दूसरे फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस से लेते हैं। अब क्रेडिट रिपोर्ट में गड़बड़ी या तो इन फाइनेंशियल इंस्टी्यूशंस से हो सकती है, जैसे कि आपका नाम या PAN नंबर गलत हो गया या फिर रिपोर्ट तैयार करते हुए ब्यूरो से ही कोई गलती हो गई।


ऐसे में अगर आपने इस पर ध्यान नहीं दिया तो आपको इसका नुकसान हो सकता है। क्रेडिट रिपोर्ट में गड़बड़ी होने पर आपका लोन या फिर क्रेडिट कार्ड एप्लीकेशन रिजेक्ट हो सकता है।


तो अगर आप गलत क्रेडिट रिपोर्ट की समस्या से जूझ रहे हैं, तो जानिए कि रिपोर्ट में कैसी-कैसी गड़बड़ियां हो सकती है और आप इसे कैसे फिक्स कर सकते हैं।


क्या आपकी ही रिपोर्ट है?


सबसे पहले तो यह चेक कर लीजिए कि रिपोर्ट आपकी ही है या नहीं। कभी-कभी ऐसा होता है कि पूरे प्रोसेस में किसी की रिपोर्ट पर किसी और की ओनरशिप चली जाती है। ये भी हो सकता है कि आपकी डिटेल्स किसी और के पास चली गई हों और वो आपका डेटा मिसयूज़ कर रहा हो, ये आपकी पूरी रिपोर्ट को गड़बड़ कर सकता है।


पर्सनल डिटेल्स में हो सकती है गड़बड़ी


आपके क्रेडिट रिपोर्ट में आपके नाम, एड्रेस, डेट ऑफ बर्थ या फिर पैन नंबर जैसी डिटेल्स में एरर हो सकता है। ऐसे में सबसे पहले इसे चेक करिए और अपनी अकाउंट डिटेल्स, क्रेडिट टाइप, असेट क्लासिफिकेशन जैसी डिटेल्स भी एक बार चेक कर लीजिए।


आउटडेटेड हो सकता है बैलेंस


क्रेडिट ब्यूरो आपका क्रेडिट डेटा बैंकों और NBFCs से लेते हैं, लेकिन ब्यूरो को आपका डेटा अपडेट करने में 30-45 दिन लगते हैं, ऐसे में हो सकता है कि आपका डेटा तबतक आउटडेटेड हो जाए। उसके बाद के पेमेंट और ट्रांजैक्शन की डिटेल्स ब्यूरो के पास नहीं होंगी, ऐसे में एक बार रिपोर्ट में अपना बैलेंस चेक कर लें। यह भी देख लें कि आपका बैलेंस सही है या नहीं। कोशिश करें कि लोन सेटलमेंट के कुछ महीनों बाद ही CIBIL रिपोर्ट के लिए अप्लाई करें, ताकि आपकी रिपोर्ट में किसी तरह का कुछ बकाया न हो।


क्रेडिट लिमिट में हो सकती है गड़बड़ी


ऐसा भी हो सकता है कि जबतक क्रेडिट रिपोर्ट आए, तब तक आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ गई हो, ऐसे में एक बार ये भी चेक कर लें।


ये गड़बड़ियां ठीक कैसे होंगी?


CIBIL जैसे क्रेडिट ब्यूरो के पास इसके लिए प्रावधान हैं, जिनके तहत आप अपना क्रेडिट रिपोर्ट ठीक करा सकते हैं।


- अगर आपकी रिपोर्ट में गड़बड़ी बैंक की वजह से है, तो आप बैंक में शिकायत डालकर और पेमेंट या फिर डिटेल्स प्रूफ देकर (जिसकी भी जरूरत हो) गड़बड़ी ठीक करा सकते हैं।


- अगर बैंक आपकी शिकायत नहीं सुनता तो आप बैंकिग ओम्बुड्समैन यानी RBI से मिले अधिकार के साथ बैंकों के काम-काज नजर रखने वाली संस्था के पास जा सकते हैं। भारत में फिलहाल बैंकिंग ओम्बुड्समेन के 21 रीजनल ऑफिस हैं।


- अगर फ्रॉड का शिकार होने के चलते आपकी रिपोर्ट में गड़बड़ी है तो डॉक्यूमेंटरी प्रूफ के साथ इसकी शिकायत बैंक में करिए। बैंक इस पर काम करेगा और आपका अपडेटेड डेटा CIBIL को दे देगा।


- अगर आपकी रिपोर्ट में कोई बकाया दिख रहा है, तो उसे तुरंत चुकाने की कोशिश करें। बकाए से आपका क्रेडिट स्कोर तो खराब होगा ही, आपपर कर्ज लगातार बढ़ता ही जाएगा।


- सबसे आखिरी चीज अगर कोई गड़बड़ी है तो आप CIBIL की वेबसाइट पर जाकर डिज्प्यूट रेजॉल्यूशन के सेक्शन में जाकर कंप्लेंट फॉर्म भर सकते हैं। इसके लिए आपके पास क्रेडिट रिपोर्ट पर दिया हुआ नौ डिजिट का नंबर होना चाहिए।


हां यह बता दें कि आपकी शिकायत के बाद CIBIL खुद यह डिटेल्स नहीं ठीक करता, वो इसके लिए आपके बैंक को अप्रोच करके यह तय करता है कि आपकी शिकायत सही है या नहीं। इसके बाद अगले 30 दिनों में आपकी समस्या हल करने की कोशिश की जाएगी।


आपकी क्रेडिट रिपोर्ट, क्रेडिट कार्ड एप्लीकेशन या फिर लोन एप्लीकेशन के लिहाज से बहुत अहम है, ऐसे में आपको इसका अहम ख्याल रखना चाहिए कि वो अप-टू-डेट और एरर फ्री हो।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।