Moneycontrol » समाचार » क्रेडिट कार्ड

Credit या Debit Card चोरी होने या खो जाने पर तुरंत करें यह 4 काम

अगर आपका कार्ड खो जाता है या चोरी हो जाता है तो आपको तुंरत कुछ स्टेप उठाने चाहिए
अपडेटेड Sep 19, 2019 पर 14:42  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Credit Card या Debit Card चोरी हो जाना या खो जाना बहुत बड़ा झंझट है और रिस्की भी है। चूंकि हम इस डिजिटल एज में इन प्लास्टिक के पैसों पर ज्यादा निर्भर हो चुके हैं, ऐसे में हमारी सारी पूंजी खतरे में आ जाती है।


आपको ऐसी किसी स्थिति के लिए तैयार रहना चाहिए। अगर आपका कार्ड खो जाता है या चोरी हो जाता है तो आपको तुंरत कुछ स्टेप उठाने चाहिए।


कार्ड ब्लॉक कराएं


आपका सबसे पहला कदम कार्ड ब्लॉक कराने का होना चाहिए। आपको सबसे पहले अपने बैंक के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके अपना कार्ड ब्लॉक कराना चाहिए। बस कस्टमर केयर के नंबर को अच्छी तरह से वेरिफाई कर लें।


इसके अलावा आप नेटबैंकिंग के जरिए या फिर बैंक की ओर से दिए गए SMS फॉर्मेट में मैसेज कर सकते हैं। इसके अलावा बैंक के ब्रांच पर जाकर भी अपना कार्ड ब्लॉक करवा सकते हैं।


FIR दर्ज कराएं


इसके बाद आपको अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज करानी चाहिए। एफआईआर की कॉपी आपके लिए प्रूफ की तरह काम करेगी। यह कॉपी बैंक में डुप्लीकेट कार्ड के लिए अप्लाई करते हुए काम आएगी। इसके अलावा आप ड्राइविंग लाइसेंस, व्हीकल रजिस्ट्रेशन वगैरह के वक्त भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।


अपना कार्ड स्टेटमेंट चेक करते रहें


कार्ड खोने के कुछ महीनों तक अपने कार्ड का स्टेटमेंट चेक करते रहें। ऐसे में अगर कोई ऐसा ट्रांजैक्शन होता है, जो आपने नहीं किया तो आप तुरंत बैंक से शिकायत कर सकते हैं।


ये सावधानियां बरतें


ज्यादा कार्ड रखना मतलब ज्यादा प्रॉब्लम। जितने कार्ड्स की सच में जरूरत है, उनके लिए ही अप्लाई करें। अपने सभी कार्ड के रिकॉर्ड यानी बैंक अकाउंट नंबर, एक्सपायरी डेट, कॉलसेंटर/हेल्पलाइन नंबर याद रखें, ताकि कार्ड खोने के बाद जरूरत पड़ने पर आप कार्ड इस्तेमाल कर सकें।


बैंक से फोन पर कॉल करते हुए अपने क्रेडिट या डेबिट कार्ड के नंबर, वन-टाइम-पासवर्ड, CVV नंबर वगैरह शेयर न करें।


अपने कार्ड को बैंक के मोबाइल ऐप से टेम्पोरेरली ब्लॉक कर लें। इसके अलावा आप कुछ बैंकों की ओर से दिए जाने वाले कार्ड प्रोटेक्शन प्लान भी ले सकते हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।