Moneycontrol » समाचार » मनीकंट्रोल बाजार

अगले साल दिवाली तक बेहतर रिटर्न चाहते हैं तो ये 5 स्टॉक्स हैं बेस्ट

अगले साल दिवाली तक Nifty 50 करीब 14,000 तक पहुंच सकता है और इन शेयरों को फायदा होने की उम्मीद है
अपडेटेड Oct 12, 2019 पर 12:26  |  स्रोत : Moneycontrol.com

इकोनॉमिक स्लोडाउन की वजह से पिछले साल दिवाली से अब तक बाजार पर दबाव बना हुआ है। लिक्विडिटी क्राइसिस, क्वालिटी से जुड़ी चिंता, FII की बिकवाली, कॉरपोरेट गवर्नेंस सहित अमेरिका-चीन ट्रेड वॉर की वजह से बाजार की तेजी टिकाऊ नहीं रह पाई है।


इस साल दिवाली में सिर्फ दो हफ्ते बाकी हैं। ऐसे में अगर हम इसे पिछले साल की दिवाली से तुलना करें तो हमें पता चलेगा कि निफ्टी मिडकैप 11 फीसदी और स्मॉलकैप 14 फीसदी गिर चुका है।


सितंबर तिमाही में कंपनियों के नतीजे भी कमजोर रहने की उम्मीद है। इनवेस्टमेंट एडवाइजरCapitalVia Global Research Limited के हेड ऑफ रिसर्च गौरव गर्ग ने कहा है कि दिवाली 2020 तक निफ्टी 50 करीब 14,000 तक पहुंच सकता है। उनका मानना है कि मिडकैप और स्मॉलकैप का प्रदर्शन लार्जकैप शेयरों के मुकाबले बेहतर हो सकता है।


यहां 5 ऐसे शेयरों की लिस्ट दी जा रही है जो अगली दिवाली तक 13-65 फीसदी तक रिटर्न दे  सकते हैं।


Finolex Industries


एग्रीकल्चर पाइप सेगमेंट में यह मार्केट लीडर है। किसानों के बीच मजबूत ब्रांड रिकॉल है। हालांकि PVC/CPVC के मुकाबले इसका मार्जिन कमजोर है। कंपनी अपने कारोबार को B2B से बदलकर B2C कर रही है।


HDFC Life Insurance


HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस का ब्रांड काफी मजबूत है इससे कंपनी को अपना कारोबार बढ़ाने में मदद मिलेगी। कंपनी ने अब अपना फोकस टर्म और एन्युटी बिजनेस पर बढ़ाया है जिससे कंपनी के मार्जिन में इजाफा होगा।


ICICI Bank


बैंक को संदीप बक्शी की लीडरशिप मिली है। इनका फोकस कोर ऑपरेटिंग प्रॉफिट ग्रोथ और एसेट क्वालिटी में सुधार करने पर है। इनिक्रिमेंटल NPA मॉडरेट है क्योंकि स्लिपेज घटकर पिछली 4-5 तिमाहियों में सबसे कम हो गया है।


Indian Hotels


Indian Hotels (IHCL) ने हर साल 15 होटल जोड़ने का प्लान बनाया है। इनमें से ज्यादातर कॉन्ट्रैक्ट के जरिए जोड़े जाएंगे। फिस्कल ईयर 2019 में कंपनी ने 22 नए कॉन्ट्रैक्ट्स और फिस्कल ईयर 2020 में 7 कॉन्ट्रैक्ट्स किए हैं। हमारा मानना है कि 65 फीसदी ऑक्यूपेंसी के साथ हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री में रिकवरी हो रही है। इस सेक्टर में सुधार का बड़ा फायदा IHCL को होगा।


Torrent Power


कंपनी अपनी क्षमताओं पर फोकस करके डेट इक्विटी रेशियो कम करने की कोशिश कर रही है। कुल मिलाकर ग्रीन पावर प्रोजेक्ट पर फोकस और रिन्युएबल पावर प्लांट्स शुरू करने से कंपनी की मजबूती बढ़ेगी। क्लीन कोल टेक्नोलॉजी पर फोकस जैसी सरकारी पॉलिसी से भी कंपनी को फायदा होगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।