Moneycontrol » समाचार » एफआईआई व्यू

एफआईआई को खिचड़ी सरकार से डर: रुचिर शर्मा

डेमोक्रेसी ऑन द रोड के लेखक रुचिर शर्मा का कहना है कि एफआईआई को खिचड़ी सरकार से डर लगता है।
अपडेटेड Feb 15, 2019 पर 11:35  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

डेमोक्रेसी ऑन द रोड के लेखक रुचिर शर्मा का कहना है कि एफआईआई को खिचड़ी सरकार से डर लगता है। लेकिन रुचिर ये भी मानते है कि कई मौके पर एफआईआई गलत भी साबित होते है। सीएनबीसी-आवाज़ के मैनेजिंग एडिटर आलोक जोशी से खास बातचीत में उन्होंने कहा कि 2019 में अगर गठबंधन की सरकार आई तो एफआईआई के सेंटिमेंट बिगड़ सकते हैं। एफआईआई को स्थिर सरकार पसंद है।


कई मौकों पर एफआईआई देश को ठीक से समझ नहीं पाते। 2004 में एफआईआई गलत साबित हुए। मनमोहन सरकार में 5 साल का बुल रन दिखा। भारत की इकोनॉमी के फंडामेंटल मजबूत हैं। लेकिन 2019 में गठबंधन की सरकार आई तो सेंटिमेंट बिगड़ सकते हैं।


रुचिर शर्मा का कहना है कि महंगाई में संतुलन बनाए रखना मुश्किल काम है। उनका ये भी मानना है कि सरकारी डिलिवरी सिस्टम में खामियों की वजह से किसानों को न्यूनतम मूल्य भी नहीं मिल पाता है।