Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

अप्रैल में ये 5 फाइनेंशियल मिस्टेक ना करें

प्रकाशित Thu, 18, 2019 पर 10:18  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अप्रैल में फाइनेंशियल ईयर की शुरुआत होती है। अगर आपने शुरुआत में ही अपना प्लान बना लिया तो पूरे साल आपको कोई उलझन नहीं होगी। हम आपको बता रहे हैं कि फाइनेंशियल ईयर शुरू होने के साथ ही आपको क्या 5 काम सबसे पहले कर लेना चाहिए।


टैक्स प्लानिंग करें


सरकार फरवरी में जो बजट तय करती है वह अप्रैल से लागू होता है। इसलिए अप्रैल शुरू होते ही नए बदलावों के हिसाब से टैक्स प्लानिंग कर लें। अगर आप सही प्लानिंग करेंगे तो आपका टैक्स भी बचेगा और निवेश के सभी फायदे भी होंगे।


15G या 15 H फॉर्म जमा करें


अगर आप 15G या 15H के तहत छूट ले सकते हैं तो फाइनेंशियल ईयर शुरू होने के साथ ही ये फॉर्म जमा कर लें। अपने सभी फिक्स्ड और रेकरिंग अकाउंट के लिए यह फॉर्म जमा करके टैक्स छूट ले सकते हैं। अगर आप सही वक्त पर ये फॉर्म जमा नहीं करते हैं तो आपका TDS कट सकता है।


कंपनी को टैक्स डिक्लेयरेशन जमा करें


हर साल फाइनेंशियल ईयर शुरू होने के बाद कंपनी को टैक्स सेविंग इनवेस्टमेंट डिक्लेयरेशन की जानकारी देनी पड़ती है। इसमें HRA भी शामिल है। अगर आप नहीं चाहते कि आपकी सैलरी से हर महीने टैक्स कट जाए तो आपके समय पर टैक्स डिक्लेयरेशन भरना जरूरी है।


इनक्रिमेंट का निवेश करना ना भूलें


हर साल अप्रैल में कर्मचारियों के पास मोटी सैलरी आती है। यही वह महीना होता है जब उन्हें परफॉर्मेंस बोनस और अप्रेजल मिलता है। आपका अप्रेजल सही वक्त पर आपके काम आए इसलिए उसे निवेश कर देना चाहिए।