Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

नौकरी छूट गई तो होम लोन की EMI से ऐसे निपटें

सबसे पहली बात अगर आप किसी लोन पर डिफॉल्ट करते हैं तो बैंक उस लोन अकाउंट को तुरंत बंद करके आपके घर पर कब्जा नहीं करना चाहेगा
अपडेटेड Sep 04, 2019 पर 10:02  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मंदी के दौर की शुरुआत हो गई है। ऐसे में कई बार हम लोन के चक्र में फंस जाते हैं। कई बार अचानक नौकरी छूट जाने से होम लोन पर हम डिफॉल्ट करना शुरू कर देते हैं। अगर आप भी ऐसी मुश्किल में फंसे हैं तो हम बता रहे हैं कि ऐसे में आपको क्या करना चाहिए?


लोन ना चुका पाने की स्थिति में कई बार लोग उस पते से हट जाते हैं जो पता उन्होंने बैंक में दिया होता है। उन्हें यह डर होता है कि बैंक उन्हें लोन ना चुकाने पर परेशान कर सकता है। ऐसे में आपको क्या करना चाहिए?


सबसे पहली बात अगर आप किसी लोन पर डिफॉल्ट करते हैं तो बैंक उस लोन अकाउंट को तुरंत बंद करके आपके घर पर कब्जा नहीं करना चाहेगा। बल्कि बैंक की पहली कोशिश यही रहेगी कि वह लोन की बकाया वसूली कर ले। लिहाजा बैंक आपसे बातचीत करने की कोशिश करेगा।


अगर आपके पास EMI चुकाने के लिए पैसा नहीं है तो छिपने या भागने के बजाय हालात से निपटने की कोशिश करें। ऐसे हालात में सबसे पहले कोई नई नौकरी खोजें। मुमकिन है कि आपको नई नौकरी में उतनी सैलरी ना मिले, जितनी पहले थी। ऐसे में आपको बैंक से मिलकर लोन रीस्ट्रक्चर करने के बारे में बात करना चाहिए।


मान लीजिए पहले 20 साल के लिए आपके लोन की EMI 10,000 रुपए थी तो आप उसे घटाकर 6000 रुपए 30 साल के लिए कर सकते हैं। इससे EMI कम हो जाएगी और टेन्योर बढ़ जाएगा। इससे आप पर बोझ भी कम होगा और बैंक को नुकसान भी नहीं होगा। हो सकता है कि टेन्योर बढ़ने से आपको लोन पर ब्याज ज्यादा चुकाना पड़े लेकिन फिलहाल बोझ जरूर कम होगा।


इसके अलावा आप बैंक से कुछ महीनों की मोहलत भी मांग सकते हैं। आपकी पेमेंट हिस्ट्री और समस्या की गंभीरता को देखते हुए बैंक यह फैसला लेगा। अगर आप लोन ना चुकाकर डिफॉल्ट करते हैं तो बैंक के साथ आप रिश्ता भी खराब होगा और आपका क्रेडिट स्कोर भी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।