Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

किश्तें भरकर जी सकते हैं लग्जरी लाइफ? समझिए EMI और अफोर्डेबलिटी का फंडा

इनकम बढ़ने के साथ-साथ हम अपने लिविंग स्टैंडर्ड को मेंटेन करने के लिए खर्च भी उतना ही करने लगे हैं
अपडेटेड Aug 09, 2019 पर 14:47  |  स्रोत : Moneycontrol.com

आजकल हमारे साथ सबसे बड़ी प्रॉब्लम ये है कि हम अच्छी लाइफस्टाल भी जीना चाहते हैं, लग्जरी का आनंद भी लेना चाहते हैं और चाहते हैं कि सेविंग्स भी हो जाए।


क्रेडिट कार्ड और हर दूसरी चीज पर EMI के ऑप्शन ने हमारे लिए बाजार को और बड़ा कर दिया है। हम अपने standard of living को बेहतर करने के लिए पैसे खर्च करने लगे हैं। हमारी आदतें इतनी बदल गई हैं कि हमारी बढ़ती इनकम के आगे हमारे खर्चे छोटे नहीं पड़ते।


इनकम बढ़ने के साथ-साथ हम अपने लिविंग स्टैंडर्ड को मेंटेन करने के लिए खर्च भी उतना ही करने लगे हैं।


और इस लाइफस्टाइल के लिए हमने जिस चीज का सहारा लिया है, वो है- EMI.


EMI के ऑप्शन ने हमारी खरीदने की क्षमता पर असर डाला है। क्रेडिट कार्ड से बाद में पैसे किश्त में चुकाते रहने की अवेलेबिलिटी ने जरूरत और अफोर्डेबिलिटी के बीच के फर्क को मिटा दिया है।


लेकिन ये दरअसल, एक ट्रैप है, एक जाल है।


EMI और अफोर्डेबिलिटी का गणित


EMI दरअसल, हमें अपनी क्षमता से ज्यादा खर्च करने को लेकर कन्विंस करता है। ध्यान रहे जरूरी नहीं कि आप जहां पैसे खर्च कर रहे हों, वह जरूरी ही हो लेकिन चूंकि पैसे एक साथ खर्च होते हुए नहीं दिखते तो आपको लगता है कि आप यह खर्च अफोर्ड कर लेंगे।


हमारी आदत बेस्ट से बेस्ट खरीदने की हो चुकी है। हमें कुछ भी खरीदना हो, हम अच्छी तरह रिसर्च करके बेस्ट प्रॉडक्ट ही लाना चाहते हैं। लेकिन अगर हमें इसके लिए भी कन्विंस कर लिया जाए, हमारी पसंद से ज्यादा बेस्ट प्रॉडक्ट भी हम अफोर्ड कर सकते हैं, तो आखिर में हम अपने बजट से ज्यादा खर्च कर बैठते हैं।


EMI का भरोसा हो तो आप दुनिया की रिच से रिच लाइफस्टाइल जी सकते हैं लेकिन EMI अफोर्डेबल लाइफ की चाबी नहीं है। आपको भी पता होगा कि पैसे आपकी पूंजी से ही जा रहे हैं, चाहे एक साल में किश्तें भरें या सालों तक भरते रहें।


ये जाल आपको कभी स्टेबल सेविंग्स करने का मौका नहीं देगा। आप खर्च ही करते रहेंगे। और जहां तक लिविंग स्टैंडर्ड की बात है उसकी कोई लिमिट नहीं, आज आप एक महंगे मोबाइल के लिए किश्तें भर रहे हैं, कल अपनी महंगी कार के लिए किश्तें भर रहे होंगे।