Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

योर मनीः क्या भारत 22 ईटीएफ में करें निवेश

प्रकाशित Fri, 22, 2018 पर 13:35  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

भारत 22 ईटीएफ के दूसरे चरण में क्या नया है। क्या इससे म्यूचुअल फंड निवेशकों को फायदा मिलेगा। क्या अपको पोर्टफोलियो में भारत 22 ईटीएफ को शामिल करना चाहिए। इसी पर बात करने के लिए योर मनी में हमारे साथ मौजूद हैं आनंदराठी प्राइवेट मैनेजमेंट के डिप्टी सीईओ फिरोज अजीज।


भारत 22 ईटीएफ रिटेल निवेशकों के लिए खुल गया है। ये 22 जून तक रिटेल निवेशकों के लिए खुला रहेगा। रिटेल निवेशकों को तय भाव से 2.5 फीसदी डिस्काउंट पर मिलेगा। इस ईटीएफ के जरिए सरकार की 6000 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है। साथ ही ग्रीन-शू ऑप्शन के साथ सरकार की 8400 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है। इस ईटीएफ में आईटीसी, एलएंडटी, एक्सिस बैंक का हिस्सा भी बिकेगा।


सवालः अच्छे रिटर्न के लिए किस म्यूचुअल फंड में निवेश करें? 5 लाख की एफडी को किस स्कीम में निवेश करें?


फिरोज अजीजः एफडी से निकलकर म्यूचुअल फंड में निवेश करना सही है। बैंक एफडी के मुकाबले डेट का रिटर्न ज्यादा है। लंबी अवधि में 70:30 रेश्यो से निवेश करें। 70 फीसदी इक्विटी और 30 फीसदी डेट में निवेश करें। 70:30 रेश्यो से 15 फीसदी रिटर्न मिलने की संभावना है।