Moneycontrol » समाचार » विदेश

ब्रिटेन में कोरोना की सबसे सस्ती वैक्सीन की टेस्टिंग कल से होगी शुरू

इस वैक्सीन की टेस्टिंग का पहला चरण सफल होने के बाद दूसरे चरण में 6 हजार लोगों को ये वैक्सीन दी जायेगी।
अपडेटेड Jun 17, 2020 पर 09:17  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना वैक्सीन को लेकर पिछले कुछ दिनों से अमेरिका, चीन और ब्रिटेन से अच्छी खबरें आ रही हैं। इन देशों ने अपने यहां वैक्सीन बनाने और दूसरे या अंतिम चरण की टेस्टिंग का दावा किया है। इस बीच ब्रिटेन से पूरी दुनिया के लिए बड़ी राहत की खबर आ रही है। इसने कोरोना महामारी पर सबसे सस्ती वैक्सीन बनाने का दावा किया है और इसकी टेस्टिंग भी शुरु कर दी है।


द टाइम्स के हवाले से महाराष्ट्र टाइम्स ने खबर छापी है कि ब्रिटेन के इंपीरियल कॉलेज ने ये वैक्सीन बनाई है। बुधवार से इस वैक्सीन की टेस्टिंग शुरू हो जायेगी। इस वैक्सीन की टेस्टिंग सफल होने पर ये वैक्सीन केवल 300 रुपये उपलब्ध होगी। टेस्टिंग के पहले चरण में 120 लोगों को ये वैक्सीन लगाई जायेगी।


इस वैक्सीन के रिसर्च प्रभारी रॉबिन शटॉक ने कहा कि इस वैक्सीन की कीमत अत्यंत कम रखने के लिए हमारे प्रयास जारी हैं। सस्ते में वैक्सीन उपलब्ध होने से ब्रिटेन के सभी नागरिकों को इसका लाभ होगा।


इस वैक्सीन की टेस्टिंग का पहला चरण सफल होने के बाद दूसरे चरण में 6 हजार लोगों को ये वैक्सीन दी जायेगी। वैक्सीन की टेस्टिंग का सारा कार्यक्रम सही समय पर पूरा होने पर भी ये वैक्सीन 2021 के पहले उपलब्ध नहीं हो सकती है यह रॉबिन शटॉक ने स्प्ष्ट किया है। हालांकि उन्होंने ये कहा कि ऑक्सफोर्ड युनिवर्सिटी द्वारा बनाई गई वैक्सीन सितंबर तक उपलब्ध हो सकेगी।


दूसरी तरफ अमेरिका की माडर्ना कंपनी द्वारा बनाई गई वैक्सीन की टेस्टिंग का तीसरा चरण जुलाई महीने में शुरू होगा। तीसरे चरण की टेस्टिंग में अमेरिका के 30 हजार लोगों को ये वैक्सीन दी जायेगी। उसके बाद ये संशोधन होगा कि ये वैक्सीन कोरोना संक्रमण को रोकने में सक्षम है कि नहीं। यदि सब ठीक रहा तो साल 2021 तक 1 अरब वैक्सीन बनाने का दावा कंपनी ने किया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।