Moneycontrol » समाचार » विदेश

चीन की धमकी, US-China कोल्ड वार से दूर रहे India

चीन ने कहा है कि भारत यदि अमेरिका के साथी के रूप में इस युद्ध में भाग लेता है तो उसका परिणाम बुरा होगा।
अपडेटेड Jun 02, 2020 पर 11:51  |  स्रोत : Moneycontrol.com

चीन ने भारत को धमकी दी है कि वो अमेरिका और चीन के बीच बन रही शीत युद्ध की स्थिति से स्वयं को दूर रखे। चीन ने कहा है कि यदि भारत अमेरिका और चीन के शीत युद्ध में सहभागी होता है तो उसे इसके गंभीर नतीजे भुगतने पड़ेंगे।


जब से कोरोना वायरस ने दुनिया को अपनी चपेट में लिया और अमेरिका को चीन के वुहान शहर से फैले हुए इस वायरस की वजह से भारी नुकसान का सामना करना पड़ा है और बड़ी संख्या में अमेरिकी नागरिक इस वायरस के कारण काल के मुंह में समा गये हैं तब से अमेरिका चीन पर कोरोना वायरस को लेकर काफी गंभीर आरोप लगा रहा है।


अमेरिका ने चीन पर व्यापार से संबंधित कई पाबंदियां लगाई हैं। इसकी वजह से चीन और अमेरिका में तनाव बढ़ रहा है और उनके बीच कोल्ड वार की स्थिति बनती जा रही है। अभी हाल ही में अमेरिका ने स्वयं को डब्ल्यूएचओ से भी अलग कर लिया है।


चीन सरकार के ग्लोबल टाइम्स में एक लेख आया है जिसके अनुसार भारत में राष्ट्रवादी भावना बढ़ रही है। चीन और अमेरिका के बीच शुरु कोल्ड वार की परिस्थिति का लाभ उठाने के लिए इस भावना का उपयोग किया जा रहा है। हालांकि चीन का कहना है कि भारत को इस कोल्ड वार में सहभागी होने के बारे में सावधान रहना चाहिए।


महाराष्ट्र टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक चीन ने कहा है कि भारत यदि अमेरिका के साथी के रूप में इस युद्ध में भाग लेता है तो उसका परिणाम बुरा होगा। यदि चीन पर हमला करने के लिए भारत अमेरिका का साथ देता है तो इन दोनों एशियाई देशों के बीच आर्थिक और व्यापारिक संबंधों पर बुरा असर होगा। जिसकी वजह से भारत की इकोनॉमी को बड़ा नुकसान हो सकता है।


इस बीच भारत और चीन के सीमा विवाद पर मध्यस्थता करने का प्रस्ताव अमेरिका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने दिया था जिसे भारत और चीन दोनों ने अस्वीकार कर दिया था। चीन ने अमेरिका से स्पष्ट कहा था कि भारत और चीन सीमा विवाद सुलझाने में सक्षम हैं और इसमें किसी तीसरे देश की मध्यस्थता की आवश्यकता नहीं है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter


(https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।