Moneycontrol » समाचार » विदेश

Corona Effect: विमान बनाने वाली अमेरिकी कंपनी ने की सबसे बड़ी छंटनी, 12 हजार हुए बेरोजगार

इसमें से 6 हजार 770 लोगों को इसे हफ्ते अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा। इनके अलावा 5 हजार 520 ऐसे कर्मचारी हैं जिन्हें सेवानिवृत्ति लेने के लिए कहा गया है।
अपडेटेड May 29, 2020 पर 16:22  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना वायरस का प्रकोप लोगों के जीवन के हर क्षेत्र में गहराता जा रहा है। इस वायरस ने विश्व की महाशक्तियों को घुटने के बल ला दिया है। लॉकडाउन से कारोबार थम गया है जिससे लोगों को नौकरी गंवानी पड़ रही है और वेतन में कटौती का चलन सा हो गया है। ऐसे में अमेरिका की विमान सेक्टर की एक दिग्गज कंपनी ने कोरोना के चलते नौकरियों में अब तक की सबसे बड़ी छंटनी कर दी है क्योंकि कोरोना के चलते सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले सेक्टरों में पर्यटन और विमान सेक्टर शामिल हैं।


महाराष्ट्र टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक अमेरिका की विमान बनाने वाली बोईंग कंपनी ने 12 हजार कर्मचारियों की छंटनी करने का फैसला किया है। इसमें से 6 हजार 770 लोगों को इसी हफ्ते अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा। इनके अलावा 5 हजार 520 ऐसे कर्मचारी हैं जिन्हें सेवानिवृत्ति लेने के लिए कहा गया है। कंपनी ने भविष्य में और लोगों की नौकरी जाने की संभावना भी व्यक्त की है।


बोईंग में कुल 1 लाख 60 हजार कर्मचारी हैं। इसमें से 10 प्रतिशत कर्मचारियों की छंटनी की जायेगी। कोरोना संकट के कारण ये हवाई सेक्टर की अब तक की सबसे बड़ी छंटनी मानी जा रही है। भारत के हवाई सेक्टर की कंपनियों में भी कर्मचारियों को वेतन कटौती का सामना करना पड़ा है।


पिछले कुछ समय से कंपनी बोईंग 737 मैक्स संकट के कारण आर्थिक दिक्कतों का सामना कर रही थी। कोरोना के कारण कारोबार ठप पड़ने से कंपनी की हालत पतली हो गई। 737 मैक्स विमानों की दो बड़ी दुर्घटनाओं के कारण कंपनी के तैयार किये गये विमानों की बिक्री नहीं हो पाई थी। जिसके कारण कंपनी ने 737 मैक्स का उत्पादन नये सिरे शुरु किया है।


कोरोना के कारण हवाई सेक्टर को बड़ा नुकसान हुआ है। अंतर्राष्ट्रीय हवाई पर्यटन एसोसिएशन की रिपोर्ट के अनुसार भारतीय विमान कंपनियों को इस साल 1 हजार 122 करोड़ का नुकसान होगा जबकि 29 लाख लोग बेरोजगार हो सकते हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।