Moneycontrol » समाचार » विदेश

हो सकता है COVID-19 की वैक्सीन कभी ना मिलेः UK PM Boris Johnson

फिर, जैसे ही टीके और उपचार उपलब्ध हो जाते हैं, हम एक और नए चरण की ओर बढ़ेंगे, जहाँ हम COVID -19 के साथ अधिक समय तक रहना सीखेंगे जहां ये वायरस हमारे जीवन पर हावी नहीं होगा।
अपडेटेड May 13, 2020 पर 08:52  |  स्रोत : Moneycontrol.com

ब्रिटिश प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने चेतावनी दी है कि नोवेल कोरोनोवायरस के लिए  बड़े पैमाने पर टीका (वैक्सीन) बनाने में एक साल से अधिक का समय लग सकता है। उन्होंने आगे ये भी कहा कि सबसे खराब स्थिति ये हो सकती है कि कोरोनो की वैक्सीन कभी बन ही न पाए। ऐसे में हमें इसके साथ ही जीना होगा।


जॉनसन ने ये बातें इकोनॉमी को धीरे-धीरे खोलने के लिए जारी की गई 50 पेजों की गाइड लाइन की प्रस्तावना में कही हैं। जॉनसन ने कहा कि कोरोना के लिए बडे पैमाने कोई टीका बनाने या उपचार खोजने में एक वर्ष से अधिक का समय लग सकता। इस मिशन के लिए उन्होंने ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और इंपीरियल कॉलेज लंदन के वैज्ञानिकों द्वारा यूके में किए जा रहे कार्यों का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा की सबसे खराब स्थिति में ऐसा हो सकता है कि हम कभी भी इस रोग की वैक्सीन ही नहीं बना सकें। ऐसे में हमारी योजना यह होनी चाहिए कि हम कैसे इस वायरस के साथ जीते हुए इसके दुष्प्रभाव से बचे रहें।


बोरिस ने माना कि कोई वैक्सीन या दवाआधारित उपचार ही इसका एकमात्र साध्य दीर्घकालिक समाधान है। इसके लिए यूके ने विश्वसनीय वैक्सीन विकास के लिए अपने कार्यक्रमों को गति दी है।


इसके लिए ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और प्रमुख फार्मा कंपनी AstraZeneca के बीच आपसी तालमेल और सहयोग करना एक महत्वपूर्ण कदम है जो COVID-19 वैक्सीन के तैयार होने पर तेजी से इसका उत्पादन करने में मदद कर सकता है।


टेलीवीजन के माध्यम से रविवार रात को राष्ट्र को और सोमवार को संसद को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि बुधवार से इंग्लैंड में सार्वजनिक जीवन के रहन-सहन के लिए गाइडलाइंस लागू होगी और लोगों को एक-दूसरे के साथ मिलने की अनुमति होगी। जब तक लोग घर बाहर रहेंगे उन्हें दो मीटर की दूरी बनाये रखनी होगी।


इकोनॉमी को धीरे-धीरे खोलने के लिए जारी की गई 50 पेजों की गाइड लाइन के मुताबिक अगले महीने की शुरुआत से लॉक डाउन उठाने की चरणबद्ध योजना के तहत कुछ गैर-जरूरी दुकानें भी फिर से खुल जाएंगी। वहीं जुलाई से कुछ हेयरड्रेसर, पब और सिनेमाघर भी खुलेंगे। हालांकि COVID-19 अलर्ट सिस्टम के तहत यदि संक्रमण की दर फिर से बढ़ती हुई देखी जाती है तो बहुत कम समय की नोटिस पर फिर से कड़ा प्रतिबंध लागू कर दिया जाएगा।


लॉकडाउन खुलने से संबंधित नियमों को तोड़ने पर जुर्माना भी बढ़ाकर 100 पाउंड हो जाएगा और जितनी बार अपराध दोहराया जायेगा जुर्माना दोगुना हो जायेगा जो कि अधिकतम 3200 पाउंड तक होगा।


इस प्रस्तावना में उन्होंने आगे कहा कि जैसे ही कोरोना का टीका और उपचार उपलब्ध हो जाते हैं, हम एक और नए चरण की ओर बढ़ेंगे, जहाँ हम COVID -19 के साथ-साथ रहते हुए यह सीखेंगे कि ये वायरस कैसे हमारे जीवन पर हावी न होने पाए।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।