Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी न्यूज

गोल्ड की कीमतें अगले 3-5 साल में डबल हो सकती हैं, निवेश करना चाहते हैं तो जान लीजिए क्या होगा आगे?

अमेरिका के फेडरल रिजर्व की ओर से पॉलिसी में बदलाव का संकेत देने के बाद जून से गोल्ड की कीमतें घटने लगी थी
अपडेटेड Aug 03, 2021 पर 08:33  |  स्रोत : Moneycontrol.com

गोल्ड के प्राइसेज नए हाई पर पहुंच सकते हैं क्योंकि कई देशों में दिए जा रहे राहत पैकेज से सेंट्रल बैंकों को होने वाली मुश्किलों की इनवेस्टर्स को अधिक जानकारी नहीं है। 25 करोड़ डॉलर के Quadriga Igneo fund को संभालने वाले डिएगो पैरिला का मानना है कि गोल्ड अगले तीन से पांच वर्षों में बढ़कर 3,000-5,000 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच सकता है।


डिएगो ने इससे पहले 2016 में यह अनुमान दिया था कि गोल्ड पांच वर्षों के अंदर एक नए हाई लेवल पर पहुंचेगा।


फार्मा और हेल्थकेयर सेक्टर की 5 कंपनियां इस महीने IPO से जुटाएंगी 8,000 करोड़ रुपये


उन्होंने कहा कि खराब मॉनेटरी और फिस्कल पॉलिसीज के कारण लंबी अवधि में होने वाले नुकसान के बारे में अधिक जागरूकता नहीं है। उन्होंने बताया कि इंटरेस्ट रेट्स को जानबूझ कर कम रखने से ऐसे एसेट बबल बने हैं जिनका फूटना मुश्किल है। इससे सेंट्रल बैंकों के लिए सामान्य स्थिति में वापस आना मुश्किल होगा।


डिएगो का कहना है कि गोल्ड में तेजी आने के कारण बरकरार होने के साथ ही मजबूत भी हैं।


पिछले वर्ष महामारी के कारण दुनिया भर में हुए भारी नुकसान के बीच गोल्ड 2,075.47 डॉलर प्रति औंस के अपने अभी तक के हाई लेवल पर पहुंचा था। हालांकि, पिछले कुछ सप्ताह से यह 1,800 डॉलर प्रति औंस के निकट है।


अमेरिका में फेडरल रिजर्व के पॉलिसी को सख्त करने का संकेत देने के बाद जून में गोल्ड में गिरावट आई थी। डिएगो का मानना है कि सेंट्रल बैंकों का स्थिति पर वैसा नियंत्रण नहीं है जो लोग सोच रहे हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।