Moneycontrol » समाचार » विदेश

Coronavirus महामारी को चीन ने कैसे अवसर की तरह किया इस्तेमाल, मीडिया कवरेज के जरिए छवि सुधारने की कोशिश

पिछले एक साल में चीन को लेकर अंतरराष्ट्रीय समाचार रिपोर्टिंग दुनिया भर में पॉजिटिव हो गई है
अपडेटेड May 13, 2021 पर 17:15  |  स्रोत : Moneycontrol.com

हाल ही में जारी एक रिसर्च स्टडी से पता चला है कि ग्लोबल मीडिया कवरेज में अपनी छवि को बढ़ावा देने के लिए चीन (China) ने कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी को एक अवसर के रूप में इस्तेमाल किया है। इसमें कहा गया है कि पिछले एक साल में चीन को लेकर अंतरराष्ट्रीय समाचार रिपोर्टिंग दुनिया भर में पॉजिटिव हो गई है। कुछ देशों में, चीन को Covid-19 के बारे में सबसे सटीक जानकारी के सोर्स के रूप में देखा गया था।


इस अध्ययन में 50 देशों के आंकड़े इकट्ठा किए गए और बताया गया कि इनमें से आधे से ज्यादा देशों को राष्ट्रीय मीडिया में चीन को लेकर की गई कवरेज महामारी की शुरुआत के बाद से ज्यादा सकारात्मक थी। तीन-चौथाई से ज्यादी यानी 76 प्रतिशत ने रिपोर्ट किया कि उनके मीडिया कवरेज में चीन की मौजूदगी थी।


चीन के राज्य मीडिया ने महामारी के दौरान दुनिया भर में बीजिंग की छवि को आगे बढ़ाने में कैसे मदद की है, इसका विश्लेषण करते हुए, रिपोर्ट में कहा गया है कि 2020 में, भू-राजनीतिक तनाव और अंतरराष्ट्रीय सीमा बंद होने के बीच, चीन ने विदेशी पत्रकारों पर प्रतिबंध लगा दिया।


इससे अंतरराष्ट्रीय मीडियो को चीन की खबरों के लिए चीन के राज्य-नियंत्रित मीडिया पर निर्भर रहना पड़ा। रिपोर्ट में देखे गया, "इस तरह बीजिंग को लेकर ज्यादा सकारात्मक खबरों का एक माहौल बनाया गया।"


इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ जर्नलिस्ट (IFJ) द्वारा ब्रसेल्स के मीडिया यूनियनों के एक संयुक्त संगठन की तरफ से जारी की गई रिपोर्ट ने देश की पॉजिटिव कवरेज को बढ़ाने वाली चीन की प्रभावी सूचना रणनीति को उजागर किया।


प्रमुख लेखक, पूर्व BBC और NPR चीन संवाददाता लिम ने कहा, "बीजिंग की रणनीति काफी सफल रही है।" उन्होंन कहा, "कंटेंट शेयरिग एग्रिमेंट, चीन में पत्रकारों का यात्रा, जैसे कदमों से कुल मिलाकर पिछले दशक में रक्षात्मक और प्रतिक्रियात्मक रणनीति से कहीं अधिक मुखर और सक्रिय रणनीति में बदलाव हुआ है।"


कई सालों से, चीन एक कमी के बारे में शिकायत करता रहा है जिसे वे "प्रवचन शक्ति" कहते हैं। इससे पिछले दशक में दुनिया भर में चीनी मीडिया की उपस्थिति का तेजी से विस्तार हुआ। शी जिनपिंग के नेतृत्व में, बीजिंग चीनी मीडिया को "चीन की कहानी को अच्छी तरह से बताने" के लिए प्रोत्साहित कर रहा है।


ये जोर देकर कहता है कि बीजिंग का दृष्टिकोण सुनने लायक है। हालांकि, चीनी संशयवादियों का सवाल है कि दुनिया का मीडिया चीन के प्रति बहुत ज्यादा भोला हो रहा है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।