Moneycontrol » समाचार » विदेश

डेमोक्रेटिक पार्टी के बिडेन ने कहा, मेरी सरकार आई तो H-1B वीजा से रोक हटेगी

23 जून को ट्रंप प्रशासन ने ऐलान किया था कि 2020 के अंत तक विदेशी कामगारों के लिए H-1B वीजा का अलॉटमेंट नहीं किया जाएगा
अपडेटेड Jul 02, 2020 पर 21:29  |  स्रोत : Moneycontrol.com

डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रेसिडेंशियल कैंडिडेट और अमेरिका के पूर्व वाइस प्रेसिडेंट जो बिडेन (Joe Biden) ने कहा है कि अगर वह नवंबर में होने वाला राष्ट्रपति चुनाव जीत जाते हैं तो वह  H-1B वीजा पर लगी अस्थायी पाबंदी हटा देंगे। भारत के IT सेक्टर के लिए यह सबसे अहम वीजा है। 23 जून को ट्रंप प्रशासन ने ऐलान किया था कि 2020 के अंत तक विदेशी कामगारों के लिए H-1B वीजा का अलॉटमेंट नहीं किया जाएगा। इससे उन IT इंजीनियर्स को तगड़ा झटका लगा है जो अमेरिका में नौकरी तलाश रहे थे। कोरोनावायरस संक्रमण की वजह से अमेरिकी नागरिकों को नौकरी मुहैया कराने के लिहाज से ट्रंप ने यह फैसला लिया है।


एशियन अमेरिकी एंड पैसेफिक आइलैंडर (AAPI) पर डिजिटल टाउन हॉल में दिए अपने भाषण में बिडेन ने वीजा होल्डर्स के योगदान को सराहा। इस समारोह का आयोजन NBC ने किया था।


77 साल के बिडेन ने कहा, "उन्होंने (अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप) इस साल के लिए H-1B वीजा खत्म कर दिया है। यह मेरे प्रशासन में नहीं होगा। कंपनी वीजा पर आए लोग हमारा देश बना रहे हैं।" बिडेन ने कहा, उनकी सरकार पहले 100 दिन में सबसे पहले यह काम करेगी। H-1B वीजा नॉन-इमिग्रेंट वीजा होता है। इसके जरिए विदेशी कामगारों को अमेरिकी कंपनियों में काम करने का मौका मिलता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।