Moneycontrol » समाचार » विदेश

Coronavirus का नया वियतनाम वेरिएंट आया सामने, UK, भारत में मिले वेरिएंट का ये हाइब्रिड कितना है खतरनाक

ये वेरिएंट अभी तक GISAID द्वारा रिकॉर्ड नहीं किया गया है। नए Covid-19 वेरिएंट का अभी तक कोई नाम नहीं है
अपडेटेड May 31, 2021 पर 13:11  |  स्रोत : Moneycontrol.com

जहां देश में हर दिन 2 लाख से कम मामले सामने आने के साथ कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी की दूसरी लहर धीमी होती दिख रही है, वहीं Covid-19 वायरस का एक और नया वेरिएंट पाया गया है। वियतनाम में COVID-19 वायरस का एक नया वेरिएंट सामने आया है, जो भारत और UK में पहली बार पाए जाने वाले स्ट्रेन का हाइब्रिड है।


वेरिएंट अभी तक GISAID द्वारा रिकॉर्ड नहीं किया गया है, ये एक वैश्विक पहल, जो वायरस के बारे में जानकारी शेयर करने पर केंद्रित है और नए वेरिएंट का अभी तक कोई नाम नहीं है।


वियतनाम के स्वास्थ्य मंत्री, गुयेन थान लॉन्ग ने वेरिएंट के नए रिपोर्ट किए गए मामलों की संख्या का खुलासा नहीं किया, लेकिन नए वेरिएंच को "बहुत खतरनाक" बताया।


दक्षिण पूर्व एशियाई देश ने पहले सात वायरस वेरिएंट का पता लगाया था - B.1.222, B.1.619, D614G, B.1.17 को यूके वेरिएंट के रूप में जाना जाता है और B.1.351, A.23.1 और B.1.617.2 को भारतीय वेरिएंट के रूप में जाना जाता है।


Covid-19 के वियतनाम वेरिएंट के बारे में जानें:


- वेरिएंट में दो मौजूदा वेरिएंट की संयुक्त विशेषताएं हैं, जो भारत और UK में पाए गए थे।


- पहले पाए गए वेरिएंट की तुलना में वेरिएंट ज्यादा आसानी से फैल सकता है।


- ये हवा में तेजी से फैलता है।


- ये वायरस गले पर तेजी से प्रभाव डालता है और आसपास के वातावरण में तेजी से फैलता है।


- वियतनाम जल्द ही नए पहचाने गए वेरिएंट के बारे में जीनोम डेटा प्रकाशित करेगा।


- वेरिएंट के लैबोरेट्री कलचर ने दिखाया है कि वायरस बहुत तेज़ी से खुद को दोहरा सकता है, इस प्रकार वियतनाम के अलग-अलग हिस्सों में थोड़े समय के भीतर COVID मामलों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है।


- विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील और यूके में पाए जाने वाले वेरिएंट को "वैश्विक चिंता के प्रकार" के रूप में वर्गीकृत किया है।


वायरस हर समय म्यूटेट होते हैं और ज्यादातर वेरिएंट अप्रासंगिक होते हैं, लेकिन कुछ इसे ज्यादा संक्रामक बना सकते हैं। COVID-19 की उत्पत्ति के बाद से अब तक हजारों म्यूटेशन का पता चला है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।