Moneycontrol » समाचार » विदेश

कोरोना वैक्सीन के भंवर में फंसा तंगहाल पाकिस्तान, इमरान के अधिकारियों को नहीं सूझ रहा रास्ता

पाक में वैक्सीन इंडस्ट्री बेहतर तरीके से विकसित नहीं है। जिसके चलते पाकिस्तान महंगी वैक्सीन की समस्या से जूझता नजर आ रहा है
अपडेटेड Jan 21, 2021 पर 21:02  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने देश में वैक्सीन खरीदने की प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश जारी कर दिए हैं। इसके बाद से पाकिस्तानी अधिकारी इस समस्या को लेकर परेशान हैं कि वो देश के लाखों लोगों के लिए कोरोना के सबसे ज्यादा खतरे वाले लाखों लोगों के लिए वैक्सीन की डोज कैसे जुटाए। बांग्ला देश जैसे दूसरे देशों के विपरीत पाकिस्तान ने अभी तक समय रहते एडवांस में वैक्सीन के ऑर्डर भी नहीं दे दिए हैं। इसके अलावा पाक में वैक्सीन इंडस्ट्री भी बेहतर तरीके से विकसित नहीं है। जिसके चलते पाकिस्तान महंगी वैक्सीन की समस्या जूझता नजर आ रहा है।


मंगलवार को प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपनी कैबिनेट कमेटी को वैक्सीन खरीदने या हासिल करने की प्रकिया को तेज करने के आदेश दिए हैं। इसके एक दिन पहले यानी सोमवार को पाकिस्तान के दवा नियमक (regulatory authority ने एस्ट्राजेनका (AstraZeneca) वैक्सीन और चीन में बनी वैक्सीन साइनोफॉर्म (Sinopharm) के इमरजेंसी में इस्तेमाल करने की मंजूरी दी थी। 


दिसंबर के शुरुआत में पाकिस्तान में वैक्सीन खरीदने के लिए 15 अरब डॉलर की राशि मंजूर की गई थी। इस राशि का उपयोग देश की 5 फीसदी ऐसी आबादी के लिए वैक्सीन खरीदने में किया जाना है, जिनको कोरोना से सबसे ज्यादा खतरा है। इस लिस्ट में फ्रंटलाइन हेल्थ वर्क्स और 65 साल से ज्यादा उम्र के लोग शामिल हैं।


बता दें कि पाकिस्तान के इस कदम के उठाने के करीब एक महीना पहले बांग्लदेश की दवा बनाने वाली कंपनी बेक्सिमको फार्मा ( Beximco Pharma) ने भारत के सीरम इस्टीट्यूट साथ AstraZeneca की वैक्सीन कोविशील्ड (Covishield) की 3 करोड़ डोज खरीने के लिे करार किया था। यह 3 करोड डोज उस 20 लाख डोज के अतिरिक्त होगी जिसको भरत ने बांग्लादेश को आज यानी गुरुवार को बतौर गिफ्ट दिया है।


दिलचस्प बात ये है कि पाकिस्तान का परम मित्र चीन ने भी अभी पाकिस्तान को कोरोना वैक्सीन देने का ऐसा कोई आश्वासन नहीं दिया है। नाम ने छापने की शर्त इस मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि पाकिस्तान ने कोरोना वायरस महामारी के मामले में भारत के साथ कोई सहयोग नहीं किया है। लिहाजा पाकिस्तान की मदद के लिए अभी तक भारत से कोई वैक्सीन नहीं मिली है।


वहीं भारत ने भूटान, नेपाल, मॉरीशस और Seychelles (सेशेल्स हिंद महासागर में स्थित 115 द्वीपों वाला एक द्वीप समूह राष्ट्र है) जैसे 9 पड़ोसी देशों को कोरोना वैक्सीन पहुंचा रहा है। लेकिन इस लिस्ट में पाकिस्तान का कहीं कोई नाम नहीं है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।