Moneycontrol » समाचार » विदेश

महामारी के बीच अगले महीने से सिख तीर्थयात्रियों को करतारपुर साहिब जाने की अनुमति देगा पाकिस्तान

कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने पर यात्रियों को पाकिस्तान में एंट्री की अनुमति नहीं दी जाएगी
अपडेटेड Aug 23, 2021 पर 08:29  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना वायरस की चौथी लहर से निपटने के प्रयास के बीच, पाकिस्तान ने अगले महीने से गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर (Gurdwara Darbar Sahib Kartarpur) में सिख श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति देने का निर्णय किया है। करतारपुर गुरुद्वारे को खोलने का निर्णय नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर (NCOC) द्वारा शनिवार को लिया गया, क्योंकि 22 सितंबर को सिख पंथ के संस्थापक गुरु नानक देव की पुण्यतिथि है।


पाकिस्तानी अखबार डॉन की खबर के अनुसार, NCOC की बैठक में निर्णय लिया गया कि कोविड-19 से बचाव के नियमों का पालन करते हुए, अगले महीने से करतारपुर में सिख श्रद्धालुओं को जाने की अनमुति दी जाएगी।


आपको बता दें कि कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंय के कारण, भारत को 22 मई से 12 अगस्त के बीच सी श्रेणी में रखा गया था और वहां से आने वाले लोगों को विशेष मंजूरी की जरूरत थी। अब, वैक्सीन की दोनों डोज का सर्टिफिकेट और पिछले 72 घंटों के भीतर हुई आरटी पीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट दिखाकर लोगों को पाकिस्तान में एंट्री की अनुमति दी गई है।


'मुझे रोने का मन कर रहा है...' काबुल से भारत पहुंचे अफगान सांसद फूट-फूटकर रोए, देखें वीडियो


इसके अलावा एयरपोर्ट पर रेपिड एंटीजेन टेस्ट भी की जाएगी तथा संक्रमण की पुष्टि होने पर यात्री को पाकिस्तान में एंट्री की अनुमति नहीं दी जाएगी। दरबार साहिब में एक साथ अधिकतम 300 लोगों को एकत्र होने की अनुमति है।


राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 3,842 नए मामले सामने आए हैं जिसके बाद कुल मामले बढ़कर 11,23,812 हो गए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।