Moneycontrol » समाचार » विदेश

PNB घोटाले के आरोपी नीरव मोदी को ब्रिटेन की कोर्ट से नहीं मिली राहत, 27 अगस्त तक न्यायिक हिरासत

PNB घोटाले के आरोपी भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) की हिरासत अवधि ब्रिटेन की कोर्ट ने 27 अगस्त तक बढ़ा दी गई है।
अपडेटेड Aug 07, 2020 पर 09:53  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) घोटाले के आरोपी भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) की हिरासत अवधि ब्रिटेन की कोर्ट ने 27 अगस्त तक बढ़ा दी गई है। नीरव मोदी को ब्रिटेन की एक अदालत के समक्ष वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पेश किया गया जहां कोर्ट ने नीरव को राहत देने से इनकार करते हुए उनकी न्यायिक हिरासत की अवधि बढ़ा दी।


बता दें कि पिछले वर्ष मार्च में गिरफ्तारी के बाद से ही हीरा कारोबारी दक्षिण पश्चिम लंदन की वांड्सवर्थ जेल (Wandsworth Jail) में कैद है। उसे लंदन में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की कोर्ट में जिला जज वेनेसा बेरेटसर के समक्ष वीडियो कांफ्रेंस से पेश किया गया।


नीरव मोदी को भारत प्रत्यर्पित किए जाने के मामले को लेकर ब्रिटेन में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई हुई। कोर्ट ने नीरव मोदी को 27 अगस्त तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया, वहीं अगली सुनवाई के लिए 7 से 11 सितंबर की तारीख दी है।


अगले महीने होने वाली सुनवाई में मोदी के खिलाफ प्राथमिक तौर पर मामला तय करने के लिए जिरह पूरी होगी और भारतीय अधिकारी दूसरी बार प्रत्यर्पण का आग्रह करेंगे। जिस पर इस वर्ष के आरंभ में ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल ने मंजूरी दी थी।


गौरतलब है कि नीरव मोदी ने पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के साथ करीब दो अरब डॉलर की धोखाधड़ी की है। इसे मामले में भारत में विभिन्न जांच एजेंसियों ने उसके विरुद्ध मामले दर्ज किए हैं। इस मामले में नीरव मोदी का सहयोगी मेहुल चौकसी (Mehul Choksi) भी भारत (India) में वांटेड है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।