Moneycontrol » समाचार » विदेश

सऊदी अरब ने जरूरी चीजों पर टैक्स तीन गुना किया, खर्च में $ 26 अरब की कटौती

सऊदी अरब ने तीन गुना VAT बढ़ाने और खर्च में बड़ी कटौती करने की घोषणा की है
अपडेटेड May 12, 2020 पर 12:30  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी और तेल की कम कीमत की मार झेल रहे सऊदी अरब ने सोमवार को जरूरी चीजों पर  VAT (वैल्यू एडेड सर्विसेज) तीन गुना करके 15 फीसदी करने का ऐलान किया। इसके साथ ही अलग-अलग परियोजनाओं और दूसरी चीजों में होने वाले खर्चों में करीब 26 अरब डॉलर कटौती की तैयारी है।


सऊदी अरब के वित्त मंत्री मोहम्मद अल जादान ने बताया कि कोरोनावायरस संक्रमण की वजह से सरकार को सख्त कदम उठाने पड़े रहे हैं। उन्होंने बताया कि नागरिकों को कॉस्ट ऑफ लिविंग अलाउंस या रहन-सहन लागत भत्ता भी नहीं दिया जाएगा। इससे सरकारी खजाने पर पर सालाना 13.5 अरब डॉलर का बोझ पड़ता है। सऊदी ने 2018 में इस अलाउंस की शुरुआत की थी। सऊदी अरब की अर्थव्यवस्था को डायवर्सिफाई करने की तमाम कोशिशों के बावजूद देश अभी भी काफी हद तक तेल आय पर निर्भर है।


ब्रेंट क्रूड का भाव इस समय 30 डॉलर प्रति बैरल के आसपास बना हुआ है। यह सऊदी अरब के बजट को संतुलित करने के लिए जरूरी राशि से काफी कम है। इसके अलावा देश को मक्का और मदीना में श्रद्धालुओं के आने पर रोक लगाने से भी राजस्व नुकसान उठाना पड़ रहा है। कोराना वायरस महामारी को देखते हुए इन शहरों को श्रद्धालुओं के लिए बंद किया गया है।


मार्च में तेल के दाम आधे से भी अधिक नीचे आने के बाद से खाड़ी क्षेत्र के बड़े तेल उत्पादक देश का यह अबतक का बड़ा कदम है। ऐसी आशंका है कि दूसरे पड़ोसी देश भी अपने नागरिकों पर इसी तरह ज्यादा टैक्स लगा सकते हैं। वैसे संयुक्त अरब अमीरात ने सोमवार को कहा कि इस तरह टैक्स बढ़ाने की फिलहाल उसकी ऐसी कोई योजना नहीं है।


IMF ने कहा है कि खाड़ी अरब क्षेत्र के सभी छह ऊर्जा उत्पादक देशों में इस साल आर्थिक नरमी होगी। सऊदी अरब के वित्त मंत्री और अर्थव्यवस्था तथा योजना मामलों के कार्यवाहक मंत्री मोहम्मद अल जादान ने कहा, ‘‘हम उस संकट का सामना कर रहे हैं जिसे आधुनिक इतिहास में कभी नहीं देखा गया। इस संकट से अनिश्चितता की स्थिति उत्पन्न हुई है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जो उपाय किये गये हैं, वे कड़े हैं लेकिन व्यापक वित्तीय और आर्थिक स्थिरता के लिये जरूरी हैं।’’


सऊदी अरब में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या 41,000 है। इसमें से 255 लोगों की मौत हो चुकी है। वित्त मंत्री के अनुसार 26 अरब डॉलर खर्च कम करने के लिए कुछ पूंजीगत खर्चों को खत्म किया जाएगा।


सऊदी अरब ने यह भी कहा कि वह वस्तुओं पर वैट 5 प्रतिशत से बढ़ाकर 15 प्रतिशत करेगा। ज्यादातर वस्तुओं और सेवाओं पर टैक्स पहली बार 2018 में लगाए गये थे जिसका मकसद रेवेन्यू बढ़ाना था।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।